गुजरात के भरूच में एक अस्पताल में आग लगने से दो स्टाफ नर्स सहित लगभग 14 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत

गुजरात के भरूच में एक अस्पताल में शुक्रवार देर रात आग लगने से कम से कम 14 कोरोना संक्रमित मरीजों और 2 स्टाफ नर्स की मौत हो गई । हादसे की दिल दहला देने वाली तस्वीरों में कुछ मरीजों के शव तक स्ट्रेचरों और बेड पर झुलसते हुए नजर आए । चार मंजिला वेलफेयर अस्पताल में देर रात एक बजे हुए इस हादसे के वक्त करीब 50 दूसरे मरीज भी थे जिन्हें स्थानीय लोगों और दमकल कर्मियों ने बचा लिया ।

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, ‘मैं भरूच अस्पताल में आग लगने से जान गंवाने वाले मरीजों, डॉक्टरों और अस्पताल के कर्मचारियों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं । राज्य सरकार हरएक दुर्घटना पीड़ित के परिवार को 4 लाख रुपये की सहायता देगी।’

भरूच के पुलिस अधीक्षक (एसपी) राजेंद्र सिंह चुड़ासमा ने बताया कि कोविड वार्ड में 12 मरीजों की मौत आग और उससे निकले धुएं की वजह से हुई ।हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि बाकी मरीजों की मौत भी अस्पताल के भीतर ही हुई या उनकी मौत दूसरे अस्पतालों में ले जाने के दौरान हुई । कोविड के इलाज के लिए निर्धारित यह अस्पताल राजधानी अहमदाबाद से करीब 190 किमी दूर भरूच-जंबूसार राजमार्ग पर स्थित है और इसका संचालन एक न्यास करता है । अधिकारी ने कहा कि आग के कारणों का पता लगाया जा रहा है ।

दमकल के एक अधिकारी ने बताया कि आग पर एक घंटे के भीतर काबू पा लिया गया और करीब 50 मरीजों को स्थानीय लोगों और दमकल कर्मियों की मदद से सुरक्षित निकाला गया. इन मरीजों को पास के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!