बभनी के घघरा में फर्जी वोटिंग की शिकायत पर भड़के ग्रामीण, पुलिस कर्मियों पर लगा फर्जी वोट डालने का आरोप

राजेश कुमार (संवाददाता)

० विरोध के कारण कुछ देर थमा रहा मतदान

० ग्रामीणों ने पुलिस कर्मियों पर घर में घुस कर मारपीट करने का लगाया आरोप

० मतदान कैंसिल करने व दोषी पुलिस कर्मियों पर कार्यवाही करने की उठी मांग

बभनी बभनी थाना क्षेत्र के घघरा ग्राम पंचायत में फर्जी वोटिंग की शिकायत पर बवाल हो गया । ग्रामीणों का आरोप है कि उनके विरोध करने पर प्रशासन के लोगो ने घर में घुस कर मारपीट की । घटना के बाद से लोगों में जबरदस्त गुस्सा है ।महिलाओं का रो रो कर बुरा हाल है । जिसके बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारे बाजी कर विरोध प्रदर्शन भी किया।

ग्रामीणों का आरोप है कि घघरा पोलिंग स्टेशन पर जब ग्रामीण वोट डालने पहुंचे तो वहां कुछ पुलिस कर्मी ग्रामीणों को वोट डालने से रोक दिया और खुद वोट डालने लगे । इस पर ग्रामीणों ने विरोध शुरू कर दिया।

बताया जा रहा है कि फर्जी मतदान की शिकायत व हो-हल्ला के बीच के पुलिस में बल प्रयोग करना शुरू कर दिया । ग्रामीणों का आरोप है कि कुछ पुलिस कर्मी बूथ स्थल के पास के घरों में घुस कर मारपीट की और दरवाजा तक तोड़ दिया । लेकिन ग्रामीणों को यह तक नहीं पता कि आखिर उन्हें मारा क्यों गया ।

इस बीच सोशल मीडिया पर एक पुलिस कर्मी की तस्वीर तेजी से वारयल हो रही है । तस्वीरों में देखा जा सकता है कि पुलिस कर्मी झुका हुआ है और मतदान घेरे के पास है । जबकि हर सुरक्षा कर्मी की ड्यूटी बाहर होनी चाहिए । बहरहाल यह जांच का विषय है कि तस्वीर में दिख रहा पुलिस कर्मी वहां क्या कर रहा।

बताया जा रहा है कि विरोध के बाद प्रधान प्रत्याशी सहित आधा दर्जन लोगो को पुलिस ने जम कर पीटा और जिसमे आधा दर्जन लोग घायल हो गये। ग्रामीण जगरनाथ, नरेन्द्र, सन्तोष, रामनरेश आदि ने प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन किया । पुलिस द्वारा की गई बत्तमीजी व फर्जी वोटिंग को लेकर प्रधान प्रत्याशी ने मतदान निरस्त करने की मांग की है। साथ ही उन दोषी पुलिस कर्मियों पर कार्यवाही की मांग की है जो फर्जी वोट डाल रहे थे और विरोध करने पर घरों में घुसकर मारपीट की ।

उधर बभनी के ब्लाक कार्यालय पर भी भीड़़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को हल्का बल प्रयोग करना पड़ा साथ ही बडहोर गांव में भी पुलिस ने लाठी भांजी जिससे लोग अपनी अपनी मोटर साइकिल छोड़कर भाग खड़े हुए।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!