गांवों की सरकार चुनने घरों से निकले मतदाता, दोपहर 1 बजे तक 32.25 फिसदी हुआ मतदान

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । जिले में अंतिम चरण में होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए मतदान आज सुबह सात बजे से ही शुरू हो गया। इसको लेकर मतदाताओं में रुझान दिखा। मतदाता सुबह ही घरों से निकल गए। लाइन में लगकर अपने पसंदीदा उम्मीदवार को वोट देने का सिलसिला शुरू हो गया। जैसे-जैसे दिन चढ़ता गया मतदाताओं की लाइन भी लंबी होती गई। उधर प्रशासनिक महकमा भी चुनाव को लेकर अलर्ट रहा। जोनल और सेक्टर मजिस्ट्रेट मतदान केंद्रों का जायजा लेने के लिए निकल पड़े थे। कई मतदान केंद्रों का भ्रमण कर चुनाव की स्थिति जानी। साथ ही पीठासीन अधिकारी व सुरक्षाकर्मियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

देखें वीडियो

पंचायत चुनाव को सकुशल संपन्न कराने के लिए रविवार की शाम ही पोलिंग पार्टियां मतदान केंद्रों पर पहुंच गई थीं। दरअसल इस बार एक साथ प्रधान, बीडीसी, ग्राम पंचायत सदस्य और जिला पंचायत सदस्य पद के लिए मतदान हो रहा है। ऐसे में मतदाताओं को चारों बैलेट पेपर पर मुहर लगाने में समय लगेगा। इसके मद्देनजर मतदान की प्रक्रिया सुबह सात बजे से ही शुरू हो गई, जो 11 घंटे तक चलेगी। दोपहर एक बजे तक 32.25 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग कर लिया था, शाम छह बजे मतदान संपन्न होगा। हालांकि लाइन में लगे मतदाताओं की वोटिंग का कार्य पूरा होने के बाद ही बैलेट बाक्स सील किया जाएगा। सुबह के वक्त मतदान शुरू होने से पहले प्रत्याशियों के अभिकर्ता बनाए गए। उनकी मौजूदगी में मतपेटी आदि व्यवस्थित करने के बाद मतदान की प्रक्रिया शुरू की गई।

कई बूथों से विवाद की खबरें

बभनी थाना क्षेत्र के घघरा बूथ पर महिलाओं ने पुलिस द्वारा बैलेट पर वोट डालने का आरोप लगते हुके जमकर हंगामा किया। जिसके बाद पुलिस ने बल प्रयोग करते हुए हंगामा करने वालो को मतदान स्थल से खदेड़ दिया।

रॉबर्ट्सगंज थाना क्षेत्र के सुकृत बूथ पर दो प्रत्याशी आपस में भीड़ गए जिसमें इकबाल अंसारी नामक प्रत्याशी घायल हो गए जिनका जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है।

वहीं रामपुर बरकोनिया थाना क्षेत्र के गोंडवान में 100 मतपत्रों पर चुनाव निशान नहीं होने से प्रत्याशियों ने अपना विरोध दर्ज कराया। सूचना पर तत्काल सेक्टर मजिस्ट्रेट मौके पर पहुंच स्थिति को संभालते हुए मतदान कार्य सुचारू रूप से चालू कराया।

जिले में 82 अतिसंवेदनशील प्लस केंद्रों की विशेष निगरानी

पंचायत चुनाव के लिए जिले में कुल 841 मतदान केंद्र और 2171 बूथ बनाए गए हैं। इसमें 388 सामान्य, 214 संवेदनशील, 158 अतिसंवेदनशील और 82 अतिसंवेदनशील प्लस मतदान केंद्र चिह्नित किए गए हैं। यहां चुनाव के दौरान हिंसा अथवा अशांति की आशंका को लेकर महकमा अलर्ट है। जिले के आला अधिकारियों के साथ ही 29 जोनल व 147 सेक्टर मजिस्ट्रेट चुनाव की निगरानी कर रहे हैं। पीठासीन अधिकारियों को किसी तरह की दिक्कत होने पर तत्काल अवगत कराने के लिए कहा गया है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!