कोरोना से रिकवरी के बाद 7 दिन कंप्लीट रेस्ट जरूरी : डॉ0 ऋषिमणि त्रिपाठी

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

कोरोना से रिकवर हो चुके मरीज “दो गज दूरी-मास्क है जरूरी” नियम का करें पालन

● नियमित योग और व्यायाम करने की सलाह दे रहे एक्सपर्ट

कोविड से रिकवर हो चुके मरीज खाएँ प्रोटीन युक्त आहार, सूखे मेवे, फल व जूस

सोनभद्र । सोनांचल में बढ़ते संकट के बीच धीरे-धीरे रिकवरी रेट में सुधार को अच्छा संकेत माना जा रहा है। इस बीच जिस तेजी से संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है, उसी हिसाब से ठीक होने वाले लोग भी बढ़ रहे हैं। हालांकि जितने मरीज हर दिन आ रहे हैं, उनके करीब आधे से अधिक संक्रमित ठीक होकर घर लौट रहे हैं। आमतौर पर देखा जा रहा है कि कोरोना से रिकवर होने वाले लोग अपने स्वास्थ्य को लेकर लापरवाही बरत रहे हैं। यही वजह है कि कोरोना से ठीक होने के बावजूद लोगों को स्वास्थ्य से जुड़ी कई समस्याओं का सामना करना पड़ा रहा है। इतना ही नहीं, कोरोना से ठीक होने के बाद लापरवाही की वजह से लोग दोबारा इस बीमारी से संक्रमित हो सकते हैं। जबकि, कोरोना से ठीक होने के बाद भी कई तरह की सावधानियां बरतनी बहुत जरूरी है। आइए जानते हैं डॉक्टर पोस्ट कोविड मरीजों को किन बातों का ध्यान रखने की सलाह देते हैं।

इसी क्रम में आज जिला एपिडेमियोलॉजिस्ट (एकीकृत रोग निगरानी कार्यक्रम) डॉ0 ऋषिमणि त्रिपाठी ने जनपद न्यूज़ live से खास बातचीत की और कोरोना से ठीक हो चुके मरीजों के लिए कुछ खास सावधानियाँ बरतने की अपील की।

डॉ0 ऋषिमणि त्रिपाठी के अनुसार महामारी से रिकवर हो चुके लोगों को मास्क और सोशल डिस्टैंसिंग का खास ध्यान रखना चाहिए क्योंकि कोरोना वायरस से पूरी तरह रिकवर होने में करीब एक महीने का समय लग जाता है। इसके अलावा रिकवर हुए लोगों को अपने खानपान और लाइफस्टाइल का भी खास ध्यान रखना चाहिए। कोरोना वायरस की वजह से हमारा शरीर काफी कमजोर हो जाता है। यही वजह है कि इससे रिकवर होने के बाद भी लोग कमजोरी और थकावट की शिकायतें करते हैं। देखा जाता है कि कोविड-19 से रिकवर होने के बाद लोग जल्द से जल्द अपने काम पर लौटना चाहते हैं लेकिन ये ठीक नहीं है। कोरोना से रिकवर होने के बाद भी आपको रेस्ट करना चाहिए और ज्यादा काम करने से बचना चाहिए। कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद दो हफ्तों का क्वारंटीन पीरियड पूरा कर एक हफ्ते का आराम करना चाहिए। इस दौरान आपको अच्छी नींद भी लेनी चाहिए ताकि आपके शरीर को भरपूर आराम मिल सके और आप पहले की तरह जल्द फिट हो सकें।

खानपान में न करें लापरवाही

डॉ0 ऋषिमणि त्रिपाठी के अनुसार कोरोना से रिकवर होने के बाद आराम के साथ-साथ अच्छा खानपान भी बेहद जरूरी है। बीमारी से पूरी तरह रिकवर होने के लिए आपको अपने खाने में प्रोटीन की मात्रा बढ़ा देनी चाहिए। प्रोटीन युक्त आहार के लिए आप दाल, हरी सब्जियां और अंडे का सेवन कर सकते हैं। इसके अलावा कोशिश करें कि रोजाना कम से कम एक फल और सूखे मेवे जरूर खाएं। दिन भर में कम से कम 8 गिलास पानी पिएं। ध्यान रहे कि एक साथ ज्यादा खाना खाने के बजाए कुछ घंटों के अंतराल में थोड़ा-थोड़ा खाना खाते रहें।

कोरोना की चपेट में आने से हमारे स्टेमिना पर काफी बुरा असर पड़ता है। ऐसे में स्टेमिना बढ़ाना बहुत जरूरी हो जाता है। कोरोना से ठीक होने के बाद नियमित रूप से योग और एक्सरसाइज करना न भूलें। इसके लिए आप कम से कम आधे घंटे वॉकिंग और योग कर सकते हैं। योग में कपाल भारती, अनुलोम विलोम, भत्रिका जैसे फेफड़े को मजबूती प्रदान करने वाले योग कर सकते हैं। नियमित रूप से एक्सरसाइज करने से न केवल आपका स्टेमिना बढ़ेगा बल्कि खून का प्रवाह भी सही रहेगा।

डॉक्टर के संपर्क में रहें

डॉ0 ऋषिमणि त्रिपाठी ने कहा कि कोरोना वायरस हमारे शरीर को काफी कमजोर बना देता है। कमजोरी और खकान के अलावा हम अन्य छोटी-मोटी बीमारियों के आसानी से शिकार बन जाते हैं। इसके अलावा, कई बार कोरोना से रिकवर हो चुके लोगों को गंभीर दिक्कतों का भी सामना करना पड़ता है। ऐसे में अपने डॉक्टर के साथ लगातार संपर्क में रहें और किसी भी तरह की कोई दिक्कत होने पर तुरंत सलाह लें।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!