प्रशासन के प्रयास से जिले को मिले भरे हुए 53 ऑक्सीजन सिलेंडर

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

● एनटीपीसी रिहन्दनगर/सिंगरौली की सहायता से मिले 35 भरे ऑक्सीजन सिलेंडर

● पावर प्लांट ओबरा की तरफ से मिले भरे हुए 18 ऑक्सीजन सिलेंडर

● वहीं पावर प्लांट ओबरा ने रिफलिंग कराने के निमित्त 49 खाली आक्सीजन सिलेण्डर भी कराया उपलब्ध

● बोले जिलाधिकारी, जिले में तेजी से चल रही है आक्सीजन जनरेटर स्थापित करने की तैयारी

सोनभद्र । जिलाधिकारी अभिषेक सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि बढ़ रहे कोरोना संक्रमण से कोविड-19 एल-2 अस्पताल में 19 अप्रैल की देर रात्रि आक्सीजन सिलेण्डर के घटने की उम्मीद के मद्देजनर रात्रि 02.00 बजे उप जिलाधिकारी दुद्धी रमेश कुमार, उप जिलाधिकारी ओबरा प्रकाश चन्द्र को स्थानीय प्रयास से आक्सीजन गैस सिलेण्डर की व्यवस्था कराने की जिम्मेदारी दी गयी। दोनों उप जिलाधिकारियों ने मानव कल्याण की भावना से लगकर उप जिलाधिकारी दुद्धी रातोंरात दुद्धी तहसील क्षेत्रों में एनटीपीसी रिहन्दनगर/सिंगरौली से सम्पर्क करके 35 भरे हुए सिलेण्डर प्राप्त करके आज सुबह कोविड-19 अस्पताल L-2 परिसर में पहुंचाया। इसी प्रकार से उप जिलाधिकाकारी ओबरा प्रकाश चन्द्र ने पावर प्लांट ओबरा से सम्पर्क करके आज लगभग 04.00 बजे भोर में जिला अस्पताल परिसर में स्थापित L-2 कोविड अस्पताल में 18 भरे हुए आक्सीजन सिलेण्डर व रिफलिंग कराने के निमित्त 49 खाली आक्सीजन सिलेण्डर भी उपलब्ध कराया। इस प्रकार से कोविड L-2 अस्पताल परिसर में आक्सीजन घटने की संभावित समस्या का समाधान उप जिलाधिकारी दुद्धी व उप जिलाधिकारी ओबरा द्वारा रातोंरात किया गया।

जिलाधिकारी अभिषेक सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि “कोरोना संक्रमण के बचाव में सभी के सहयोग की जरूरत है। इस वैश्विक महामारी से निपटने के लिए सभी सम्बन्धितों का टीम भावना के साथ सहयोग जरूरी है। अभी तक सोनभद्र जिले में आक्सीजन सिलेण्डरों की कमी नहीं हो पायी है। मगर बढ़ रहे संक्रमित कोरोना के मरीजों के निमित्त आक्सीजन सिलेण्डरों की मांग बढ़ा दी गयी है और आक्सीजन जनरेटर स्थापित करने की तैयारी काफी तेजी के साथ चल रही है। सभी के सहयोग से टीम भावना के साथ लगकर यह कोशिश जारी है कि सोनभद्र जिले में आक्सीजन की कमी कभी न होने पायें।”



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!