कोविड पर आस्था का जनसैलाब भारी पड़ा, विंध्यधाम में उमड़ी भक्तों की भारी भीड़

जनपद न्यूज़ ब्यूरो

मिर्जापुर । यूपी के विंध्याचल में मंगलवार की भोर से नवरात्र मेला शुरु हो गया। नवरात्र के पहले दिन ही कोविड पर आस्था का जनसैलाब भारी पड़ा, ना ही सोशल डिस्टेंस दिखा और ना ही लोगो मे कोरोना का भय,सुबह से लोग लम्बी लम्बी लाइन में लगकर मां की एक झलक पाने को बेताब देखे गए। जिला प्रशासन के सारे दावे फेल साबित हुऐ।

मंगलवार की भोर से नवरात्र की शुरुवात हो गई, सुबह से लोग लम्बी लम्बी लाइन पर लगकर अपनी बारी का इंतजार करते देखे, मंदिर परिसर के आसपास हर तरफ मां के जयकारों से विंध्य धाम गूंज रहा था, बच्चे हो या बूढे सभी लोग मां के दर्शन करने को बेताब देखे गए।

हालांकि कोरोना की भयावहता को देखते हुए जिला प्रशासन ने मंदिर में दर्शन के लिए कई नियम और कानून बनाए थे जो कि फेल साबित हुऐ, न तो भक्तों के पास कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट देखने को मिली और न ही सोशल डिस्टेंस भी, देखने को मिली तो केवल आस्था।

जिले में नाईट कर्फ्यू लागू होने के कारण नवरात्र मेला में भी मंदिर और दर्शन पूजन पूरी तरह से बंद रहेगा।सिर्फ सुबह 6 बजे से रात 8 बजे तक ही दर्शनार्थी मंदिर में दर्शन पूजन कर सकते है। वह भी एक बार मे 5 लोग ही मन्दिर जा सकेंगे जिसके पास कोविड की निगेटिव रिपोर्ट होगी, उसी को ही दर्शन का मौका दिया जाएगा।

विंध्याचल निवासी शानिदत्त पाठक ने कहा कि “प्रशासन ने तमाम बंदिशें लगाई थी उसके बाद भी सुबह से भक्तों की भीड़ टूट पड़ रही है ,साथ ही बताया कि नाईट कर्फ्यू के कारण रात में दर्शन बन्द है इसलिए ही इतनी भीड़ देखने को मिल रही है।”



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!