रेलवे प्रशासन ने प्रीतनगर वासियों को दिया नोटिस मचा हड़कम्प

घनश्याम पाण्डेय/विनीत शर्मा(संवाददाता)

चोपन। गुरूवार को पूर्व मध्य रेलवे चोपन के द्वारा प्रीतनगर के कई एकड़ भूमि को रेलवे अपनी भूमि मानते हुए दर्जनों लोगों को नोटिस थमाया जिसके बाद लोगों में रेलवे के प्रति काफी आक्रोश व्याप्त हो गया| जिस भुमि को रेलवे अपनी मान रही है उस भुमि पर दर्जनों लोग अपने मकान बना चुके हैं जिनको रेलवे द्वारा नोटिस दिया जा रहा है जिसमे 15 दिन के अंदर रेलवे भूमि को खाली करने का अल्टीमेटम है। वहीं रहवासियों का कहना है कि जब हम लोगों ने राजस्व देकर इस जमीन को खरीदा है तो इस तरह से रेलवे द्वारा नोटिस देना समझ से परे है । वही पूर्व मध्य रेलवे के अधिकारियों द्वारा इसे सिरे से खारिज किया जा रहा है ।

पूर्व मध्य रेल के अधिकारियों का कहना है की गलत तरीके से जमीन की हेराफेरी की गई है यह रेलवे की भूमि है जिसे हर हाल में खाली करना पड़ेगा। रेलवे के बड़े अधिकारियों द्वारा निर्देशित करने के बाद ए ई एन, आई ओ डब्ल्यू व रेलवे की समस्त प्रशासनिक टीम के द्वारा लगभग दर्जनों लोगों को रेलवे की नोटिस बांटी गई। रेलवे द्वारा इस महामारी कोविड के बीच इस तरह से अचानक नोटिस बाटने से लोगों में हड़कम्प मच गया है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!