नहीं देखी होगी विकास की ऐसी तस्वीर तो अब देख लें वर्ना पछताएंगे

अंशु खत्री/दिलीप श्रीवास्तव (संवाददाता)

चुर्क । गांव में विकास की तस्वीर कैसे तैयार की जाती है यह इस मॉडल को देखकर आपको समझ में आ जाएगा । तस्वीरों में दिख रहा यह भवन सामुदायिक शौचालय है । चकाचक रंगरोगन कर आगे से मजबूत दरवाजा भी लगा दिया गया ।
सरकारी कागजों पर भले ही यह सामुदायिक शौचालय पूरा दिखा दिया गया हो । मगर जो तस्वीर हम आपको दिखाने जा रहे हैं वह हैरान करने वाली है ।

जैसे ही आप दरवाजे से अन्दर प्रवेश करेंगे आपको कुछ इस तरह का नजारा देखने को मिल जाएगा । अंदर चार कमरे की दीवार उठा दी गयी है । शौचालय के लिए अभी न तो चेम्बर बना है और न कमरे में कोई गमला ही लगा है ।

मामला विकास भवन से महज 12 किलोमीटर दूर चुर्क गांव का है । जहां यह भवन न सिर्फ चर्चा का विषय बना है बल्कि विकास विभाग को मुंह भी चिढ़ा रहा है ।
चुनावी समर में अधिकारी द्वारा जब अधूरे सामुदायिक शौचालय को चमकाने के काम किये जाने लगा तो गांव वाले भी उनकी कार्यप्रणाली से हैरान थे । ग्रामीणों को समझ में नहीं आ रहा था कि जब शौचालय ही अधूरा है तो बाहर से रंगरोगन का क्या मतलब। लेकिन यहां साहेब अपनी नौकरी बचाने के लिए अधूरे शौचालय की रंगाई – पोताई कराकर जिओ टैगिंग भी करा दिए होंगे ।
लाखों रुपये की लागत से बन रहे इस सामुदायिक शौचालय को लेकर गांव में चर्चा का विषय बना है ।

बहरहाल मीडिया में खबर आने के बाद प्रशासन इस पर क्या एक्शन लेती है यह तो आने वाले समय में देखने को मिलेगा । लेकिन यह तो साफ है कि सरकार चाहे लाख दावे कर ले जमीनी हकीकत इससे काफी दूर होती है ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!