पत्नी की पुण्यतिथि पर विद्यालय निर्माण के लिए किया भूमि दान

रमेश यादव ( संवाददाता )

– गायत्री परिवार के संस्थापक सदस्य शिवशंकर कुशवाहा के द्वारा भूमिदान को लोगों ने की सराहना

– विद्यालय निर्माण से जलेगी शिक्षा की ज्योति

– विंढमगंज से सटे झारखंड के मकरी में विद्यालय निर्माण के लिए किया भूमि दान

दुद्धी। विंढमगंज क्षेत्र के गायत्री परिवार संस्थापक सदस्य शिव शंकर कुशवाहा ने अपनी अर्धांगिनी स्वर्गीय भगवंती देवी की पुण्यतिथि (बरसी) के मौके पर शांतिकुंज हरिद्वार मिशन के उद्देश्यों के मद्देनजर वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच यज्ञ आहुति, शांति पाठ का आयोजन किया। शांतिकुंज हरिद्वार के संस्थापक पंडित श्रीराम शर्मा आचार्य गुरुदेव, वंदनीय माता भगवती देवी शर्मा ,माता गायत्री के प्रतिमा पर दीप प्रज्ज्वलन एवं पुष्प अर्पित कर वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच व्यास पीठ पर बैठे और अन्य कार्य विधि विधान के साथ सम्पन्न कराया।डॉक्टर रामनाथ प्रजापति, शिवकुमार,विजय कुमार के द्वारा गायत्री महा मंत्रोच्चारण के बीच सविता देवता,कलश देवता आदि की स्तुति की गई।अर्धांगिनी की स्मृतियों को शिव शंकर कुशवाहा के द्वारा अपने वक्तव्य में विचार साझा किया गया ।गायत्री परिवार मिशन को आगे बढ़ाने में उनके योगदान को लोगों के समक्ष रखा ।

इस बरसी पर गायत्री परिवार के संस्थापक सदस्य शिवशंकर ने विद्यालय निर्माण के लिए स्वयं स्वर्गीय भगवंती देवी द्वारा 5 बिस्वा जमीन महामहिम राज्यपाल के नाम दान पत्र किया गया। प्राथमिक विद्यालय का निर्माण पश्चिमी टोला( मकरी ) प्रखंड सगमा जिला गढ़वा झारखंड किया जाना प्रस्तावित है।जहाँ किसी तरह अशोक कुमार कुशवाहा एवं अनिल कुमार कुशवाहा द्वारा अव्यवस्थित रूप से ग्रामीणों को शिक्षित करने का प्रयास किया जा रहा है परन्तु अब विद्यालय निर्माण के लिए जमीन मिल जाने पर भविष्य विद्यालय का संचालन पूर्ण रूप से करने में मदद मिलने की उम्मीद जताई गई।

डॉक्टर हर्षवर्धन कुमार प्रजापति के द्वारा कन्या भ्रूण हत्या रोकथाम के लिए माताओं को डटकर प्रतिरोध करने का भावुक आह्वान किया गया, गायात्री परिवार मिशन के सहयोगी जितेंद्र चंद्रवंशी द्वारा शांतिकुंज मिशन हरिद्वार के विचार क्रांति को जन-जन तक पहुंचाने एवं त्याग विद्यालय निर्माण के लिए भूमिदान, सहित पुण्यतिथि पर भूली बिसरी यादों को साझा किया।आध्यात्मिक सत्ता का 21वी सदी में बोलबाला है जिसके दम पर विश्व में भारत की साख बढ़ी है यह वैदिक रिचाओं, आध्यात्मिक साधनाओं, के दम पर पुनः विश्व गुरु की ओर भारत बढ़ रहा, भारती इंटरमीडिएट कॉलेज के प्रधानाचार्य चंद्रभान सिंह के द्वारा श्रद्धा सुमन अर्पित कर शांतिकुंज मिशन की भूरी भूरी प्रशंसा की गई। सेवानिवृत्त प्रवक्ता शिवकुमार कुशवाहा द्वारा रूढ़ीवादी विचारों से बाहर निकलकर मानव प्राणी एक समान के मिशन पर प्रकाश डालते हुए वर्ण व्यवस्था, जाति व्यवस्था पर कुठाराघात किया और शिक्षा रूपी ज्ञान की आलोक से जग को प्रकाशित करने का आह्वान किया। गायत्री परिवार के संस्थापक सदस्य हुलास प्रसाद यादव ने कहा कि विचार क्रांति अभियान से बहुत कुछ बदला है और बहुत कुछ किए जाने की आवश्यकता है, प्रज्ञा का अवतरण व्यक्ति के मानस पटल पर अंकित हो रहा है, सेवानिवृत्त प्रधानाध्यापक और गायत्री परिवार के वरिष्ठ राम ख्याल गुरुजी द्वारा भी श्रद्धा सुमन पुण्यतिथि पर अर्पित कर मिशन के कार्यों की सराहना कर लोगों से जुड़ने का आह्वान किया ।

इस मौके पर अनिल कुशवाहा एडवोकेट, प्रभु सिंह कुशवाहा एडवोकेट,डॉ राजकुमार राजावत,पन्ना लाल कुशवाहा, सुनील कुमार सहित अन्य गायत्री परिवार के सदस्य मौजूद रहे ।संचालन गायत्री परिवार के उदय लाल मौर्य द्वारा किया गया ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!