स्वच्छ भारत अभियान को ठेंगा दिखा रहे सफाईकर्मी, गाँवों में लगा गंदगी का अंबार

अंशु खत्री/दिलीप श्रीवास्तव (संवाददाता)

चुर्क । चुर्क क्षेत्र ग्राम पंचायत कुरा के चरका टोला साफ-सफाई व्यवस्था को चाक-चौबंद करने के लिए गांव में सफाई कर्मियों की तैनाती की गई थी। लेकिन अफसरों की लापरवाही के चलते सफाई कर्मी लगभग पिछले चार माह से व्यवस्था का बुरा हाल है गांव में तैनात किए गए सफाई कर्मियों की निगरानी की जिम्मेदारी एडीओ पंचायत तथा ग्राम पंचायत अधिकारी की है। एडीओ पंचायत गांव में झांकने नहीं जाते और सफाई कर्मी घर बैठे ही ड्यूटी पूरी कर लेते हैं। नियमित सफाई न होने से गांव की गलियां और सड़कों पर गंदगी का अंबार है।

आज जनपद न्यूज़ live की टीम इसकी पड़ताल करने ग्राम पंचायत कुरा के मुसही चरका टोला में पहुँची। इस दौरान स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि गांव में सफाई कर्मी द्वारा न तो नियमित रूप से सफाई कराई जाती है और न ही सफाई व्यवस्था पर ध्यान दिया जाता है। लंबे समय से सफाई नहीं कराए जाने के कारण नाले-नालियां कचरे से पटे हुए हैं। नालियों में इतना कचरा भरा है कि पानी की निकासी नहीं हो पा रही है और घरों का गंदा पानी सड़क के ऊपर होकर बहता रहता है। विगत कई माह से गांव में सफाईकर्मी के नही जाने से गांव में सफाई नहीं होने से गांव में दिनभर मच्छर पनपते रहते हैं। ऐसे ही हम सब लोग मच्छरों के जंजाल में फंसकर बीमार पड़ जाते हैं, गाँव में ज्यादातर जगह गन्दगी फैली हुई है।

वहीं कुछ लोगों ने बताया जो सफाई कर्मचारी विगत कई माह से गांव में दिखाई ही नहीं पड़ता वह अधिकारियों की मेहरबानी से घर बैठे ही तनख्वाह ले रही है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!