बदलते मौसम में नाक, गले की परेशानियों से बचने के लिए अपनाएं ये पांच घरेलू उपाय

बदलते मौसम में नाक, गले की परेशानियां भी शुरू हो जाती है। ऐसे में ज्यादातर लोग डॉक्टर के पास जाना पसंद नहीं करते और घर में रखी कोई पेन किलर खा लेते हैं लेकिन बार-बार दवाई लेने से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता पर असर पड़ता है इसलिए आपको इन छोटी-छोटी परेशानियों का घरेलू उपाय करना चाहिए। आइए, जानते हैं घरेलू उपाय-

गर्मा-गर्म लिक्विड का करें सेवन:
बंद नाक और गले में हो रही दिक्कत से बचने के लिए आप गर्म लिक्विड का सेवन करते रहें। पानी भी हल्का गुनगुना लें। अदरक की चाय, ब्लैक टी, ग्रीन टी और काढ़ा जैसी चीजों का सेवन आपको पलूशन और बदलते मौसम के प्रभाव से बचाएगा।

काली मिर्च के साथ शहद का सेवन:
सर्दी और पॉल्यूशन के कारण बंद होनेवाली नाक और गले की समस्या से काली मिर्च और शहद का मिश्रण भी बचा सकता है। एक बड़ा चम्मच शहद में 2 से 3 चुटकी पिसी हुई काली मिर्च मिलाएं और रात को सोने से पहले इसका सेवन करें। ध्यान रखें कि इसे धीरे-धीरे चाटने पर ज्यादा लाभ होगा बजाय इसके कि आप एक बार में खा लें। अगर दिक्कत अधिक है तो दिन में दो बार तक इसका सेवन कर सकते हैं।

भाप लें:
विक्स के जरिए बंद नाक खोलना सबसे आना तरीका है। गले पर लगाने से भी यह काफी हद तक राहत देता है। आप बंद नाक और गले की दिक्कत के लिए गर्म पानी में विक्स डालकर उसकी भाप भी ले सकते हैं।

लहसुन को डाइट में शामिल करें:
सर्दी से बचने के लिए लहसुन का इस्तेमाल खाने में जरूर करें। हो सके तो दिन में एक बार लहसुन की एक कली को कच्चा चबाकर खाएं। अगर ऐसा ना कर पाएं तो दाल-सब्जी में लहसुन का उपयोग जरूर करें। लहसुन की चटनी भी शरीर को गर्म रखने और नाक-गले से जुड़ी दिक्कतों से बचाती है।

दूध में अदरक पकाकर पिएं:
जुकाम होने पर दूध पीने के लिए मना किया जाता है क्योंकि ऐसी स्थिति में दूध कफ बढ़ाने का काम कर सकता है। लेकिन अदरक डालकर पकाया गया दूध हल्दी मिक्स करके पीने से जुकाम और गले की समस्या में तुरंत राहत देता है। आप सुबह और शाम के वक्त इसका सेवन कर सकते हैं।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!