नौनिहालों के स्कूल का पहला दिन, कहीं दिखा उत्सव, तो कहीं लापरवाही

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र कोरोना संक्रमण के चलते लगभग ग्यारह महीने बाद आज प्राथमिक स्कूल के नौनिहाल स्कूल पहुंचे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने पहले ही निर्देश जारी किया था कि नौनिहाल लम्बे समय बाद स्कूल आ रहे इसलिए इनके स्वागत की तैयारी कर लिया जाय ताकि उन्हें भी स्कूल बदला-बदला सा नजर आए। साथ ही सभी परिषदीय विद्यालयों में कोविड नियमों का पालन कराने को लेकर सख्त निर्देश भी दिये गए थे। चाहे अध्यापक हो या छात्र-छात्राएं सभी को मास्क लगाना अनिवार्य है।

हमारी टीम अलग अलग जगह जाकर ग्राउंड रियलिटी चेक किया।

राबर्ट्सगंज ब्लाक का प्राथमिक विद्यालय बिजरी हो या सजौर या फिर बभनी ब्लाक में प्राथमिक विद्यालय बरवाटोला, सभी स्कूलों में बच्चों के हाथ सेनिटाइज करने के अलावा मास्क के साथ ही प्रवेश दिया गया।

वहीं चोपन ब्लाक के ग्राम सभा पनारी के प्राथमिक विद्यालय कैम्हापान पनारी व गुरमुरा पनारी दोनों स्कूलों में बड़ी लापरवाही देखने को मिली । दोनों ही स्कूलों में टीचर से लेकर बच्चे व रसोइया सभी बिना मास्क के नजर आए वहीं पनारी में खाना लकड़ी के चूल्हे पर बना रहा था तो वहीं गुरमुरा में राशन के अभाव में किचन बन्द था।

देखें वीडियो

इस पूरे मामले पर जब एबीएसए चोपन से मोबाइल पर बात किया गया तो उन्होंने कहा कि सभी कमियों को जल्द दूर कर लिया जाएगा।

कुल मिलाकर यह कहा जा सकता है कि सरकार भले ही नियम सख्त नियम बना दे लेकिन पालन करवाने वाला यदि खुद लापरवाह हो तो फिर उसे क्या कहेंगे । लेकिन बड़ा सवाल यह है कि यह लापरवाही उस जनपद में देखने को मिल रही है जहां के प्रभारी खुद बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री हैं ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!