कम्पोजिट विद्यालय अदसड पर आरती कर बच्चो को कक्षा में कराया गया प्रवेश

अनिता अग्रहरी

धीना। परिषदीय विद्यालयों में लगभग 12 माह बाद कोविड-19 का पालन करने के साथ प्राथमिक स्कूल खोलने के निर्देश पर विद्यालयों में खुशी का माहौल देखने को मिला।विद्यालय पर बकायदा शिक्षक बच्चों को स्कूल में घुसने पर तिलक व आरती कर , मास्क, पूर्व सेनेटाइजर से हाथ धुलवाकर, थर्मल स्कैनिंग कर प्रवेश करने दिया गया।
कोविड -19 संक्रमण के चलते सरकारी व प्राइवेट विद्यालय लगभग 12 माह से बन्द किया गया था।इससे प्राइवेट विद्यालयों के शिक्षकों को मानदेय के लिए तमाम दिक्कतों का सामना करना पड़ा था।सरकार नैनिहालो के भविष्य को देखते हुए कोविड-19 का पालन करते हुए विद्यालय खोलने के लिए प्रधानाध्यापकों को आवश्यक दिशा निर्देश दे दिया था।इसके बावजूद कुछ विद्यालयों में कोविड-19 का पालन किया गया।इस सम्बंध में बीईओ बरहनी राकेश कुमार सिंह ने कहा कि विद्यालयों में कोविड-19 का पालन करने का प्रधानाध्यापकों को दिशा निर्देश दिया गया है।बिना मास्क के शिक्षण कार्य करने पर सम्बंधित शिक्षक पर विभागीय कार्रवाही किया जाएगा।विद्यालय में सेनेटाइजर, मास्क, सोशल डिस्टेंस का पालन करना अनिवार्य है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!