निर्वाचक नामावली में गड़बड़ी के आरोप में बीएलओ व सुपरवाइजर पर कार्यवाही की संस्तुति से हड़कंप

रमेश यादव (संवाददाता)

◆ कार्यवाही के लिए दुद्धी एबीएसए ने बीएसए को भेजा संस्तुति

◆ शिकायतकर्ता ने कहा कि कार्यवाही नहीं होने पर राज्य निर्वाचन आयोग को भेजेंगे पत्र

◆ तहसीलदार की जांच में हुआ खुलासा

◆ एसडीएम दुद्धी रमेश कुमार ने कार्यवाही के लिए खण्ड शिक्षा अधिकारी को भेजा पत्र

दुद्धी । निर्वाचक नामावली सूची में बीएलओ एवं सुपरवाइजर द्वारा की गई गड़बड़ी की खुलासा तब हुआ जब घिवही गांव के ही एक नागरिक की शिकायत पर उप जिला अधिकारी दुद्धी रमेश कुमार ने बी एल ओ व पर्यवेक्षक के खिलाफ निर्वाचन नामावली में घोर अनियमितता के आरोप की जांच तहसीलदार दुद्धी से कराई।तहसीलदार के जांच आख्या पर उप जिलाधिकारी ने कार्यवाही के लिए खण्ड शिक्षा अधिकारी को लापरवाही बरतने के आरोप में पत्र लिखा।

तहसीलदार के जांच रिपोर्ट के बाद उप जिलाधिकारी ने भी गांव में जाकर स्वयं शिकायत की हकीकत जानी और पाया कि संदिग्ध भूमिका में लिप्त बीएलओ एवं पर्यवेक्षक द्वारा अति महत्वपूर्ण कार्य में लापरवाही बरती गई है।जिसके संबंध में ग्रामीणों से पूछताछ पर शिकायतकर्ता का आरोप सत्य पाया गया।शिक्षा विभाग से जुड़े होने के कारण खंड शिक्षा अधिकारी दुद्धी को दो दिवस के अंदर अपने स्तर से कृत कार्रवाई से शिकायतकर्ता को भी अवगत कराने का निर्देश दिया है।

बता दें कि शिकायतकर्ता कृपाशंकर एडवोकेट ने संपूर्ण समाधान दिवस में 02 फरवरी 2021 को संदर्भ संख्या 30100621000182 द्वारा निर्वाचन नामावली में निवर्तमान प्रधान के प्रभाव में आकर निर्वाचक नामावली में गड़बड़ी करने का बीएलओ एवं पर्यवेक्षक पर आरोप लगाया था।जिस पर तहसीलदार दुद्धी ने हिदायत भी दी थी परंतु बीएलओ एवं पर्यवेक्षक ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया। जिस पर एसडीएम दुद्धी रमेश कुमार ने तहसीलदार के आख्या रिपोर्ट पर कार्यवाही का निर्देश दिया। शिकायत कर्ता का आरोप है कि सरकार की मंशा के विपरीत कार्य करने वाले लोगों के कारण ही आम मतदाता मतदान से वंचित हो जाता है और अपात्र लोग मतदान कर देते हैं जो लोकतंत्र के लिए न्यायसंगत नही है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!