सरकारी विभागों पर करोड़ों का बिजली बकाया, जाने कौन सा विभाग है पहले स्थान पर

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । यदि आप बिजली विभाग के कनेक्शनधारी है और आपका बिल 5 हजार से ज्यादा का बकाया हो जाता है तो आपके माथे पर चिंता की लकीर बनना स्वाभाविक है क्योंकि कभी भी आपके दरवाजे बिजली विभाग का कर्मचारी पहुँचकर बकाये के लिए बिजली कनेक्शन काट सकता है। इतना ही नहीं यदि आप उनके सामने अपनी मजबूरी रखते हैं तो आप उनके लिए और भी बुरे हो गए, उसके लिए कर्मचारी आपको समाज के सामने चार बात सुनाता है।

लेकिन वहीं दूसरी तरफ़ सरकारी विभाग में करोड़ों के बिजली बिल बकाए के वावजूद बिजली विभाग खुद बैकफुट पर है। विभाग के अधिकारियों का आलम यह है कि यह समस्या न निगलते बन रहा है और न उगलते। चूंकि सूबे की बकाये की लिस्ट में सोनभद्र पर करोड़ों रुपये का बकाया दिख रहा है और वहां अधिकारी इन्हें हर बार चार बात सुनाते हैं।

वहीं सरकारी बकाए पर बिजली विभाग के अधिशासी अभियंता ई0 एस0के0सिंह ने कहा कि “विभिन्न सरकारी विभागों पर 15.66 करोड़ रुपये का बकाया है। इसके लिए हमारी तरफ से प्रयास किया जा रहा है कि बकाए का भुगतान अतिशीघ्र हो सके लेकिन यदि ये भुगतान विभागों द्वारा नहीं किया जाता है तो निश्चित रूप से मार्च महीने में उनकी भी बिजली काटी जाएगी।”

जहाँ एक तरफ सरकारी बिजली बिल बकाये को लेकर विभाग बकायेदारों की लाइन काटने की योजना बना रहे हैं, वहीं जिला योजना की बैठक में शिरकत करने आये प्रभारी मंत्री डॉ0 सतीश चंद्र द्विवेदी से जब पत्रकारों ने मंत्री को बताया कि सरकारी विभागों पर करोड़ों रुपये का बिजली बिल बकाया चल रहा है औऱ कभी भी बिजली गुल हो सकती है, तो मंत्री का कहना है कि उनकी बिजली नहीं कटेगी ।

देखें वीडियो –

बहरहाल सरकार बिजली बकाये को लेकर जितनी शक्ति आम लोगों के साथ बरतती है उतनी शक्ति यदि सरकारी बकायेदारों के साथ करती तो शायद विभाग घाटे से उबर जाती और बकाए का एक मुश्त भुगतान भी हो जाता।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!