पौधों की रोपाई हेतु 6000 गढ्ढे तैयार

विवेक मिश्रा (संवाददाता)

शाहगंज। कैमूर वन्य जीव विहार महुआरिया स्थित लेखनिया पेंटिंग्स की ओर जाने वाली मार्ग पर सामाजिक वानिकी के अंतर्गत पौधों की रोपाई हेतु मजदूरों द्वारा लगभग 6000 गड्ढे खोदने का कार्य समाप्ति की ओर है
इस बाबत वन दरोगा धर्मराज सिंह ने बताया कि पौधों की नर्सरी के लिए तैयार करवाए जा रहे इन गड्ढों में पौधरोपण करवाया जाना सुनिश्चित है जिसमें मजदूरों द्वारा नवंबर से ही 6000 गड्ढों को तैयार करने का लक्ष्य प्राप्त हुआ जिसमें पौधरोपण करवाया जाएगा
मिली जानकारी के अनुसार जंगल में वन तेजी से घट रहे हैं परिणाम स्वरूप यह संकट जंगली जानवरों पर भी पड़ता दिखाई दे रहा है परंतु सामाजिक वानिकी योजना के अंतर्गत पुनः वृक्षों से हरे भरे, होने की उम्मीद है।

वन दरोगा धर्मराज ने बताया कि इस जंगल में दुर्लभ प्रजाति के काले हिरणों की संख्या भी काफी है, हालांकि वन विभाग पहले से वृक्षों के लगाने की कार्य योजना बनाकर इस दिशा में तेजी से कार्य कर रहा है, कैमूर वन्य जीव विहार महुआरिया स्थित पर्यटकों के लिए आने जाने वाले मार्ग को मोरन डालकर दुरुस्त करवाया गया, जिससे कि उन्हें आवागमन में किसी विशेष प्रकार की दिक्कत ना होने पाए, पर्यटन की दृष्टि से यह क्षेत्र काफी महत्वपूर्ण है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!