माफियाओं के खिलाफ सख्त दिखे एडीजी, कहा- सोनभद्र पुलिस माफियाओं को चिन्हित कर करे और कड़ी कार्यवाही

आनंद कुमार चौबे/अंशु खत्री (संवाददाता)

● एडीजी ने पुलिस लाइन में किया अपराध व कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक

जिले में अब तक 38 आपराधिक मामलों में 16.40 करोड़ की संपत्ति की गई जब्त

201 अपराधियों के खिलाफ़ गैंगेस्टर एक्ट के तहत की गई है कार्यवाही

सरकारी जमीन पर कब्जा करने वाले गिरोहबंद अपराधियों के खिलाफ होगी प्रभावी कार्यवाही

बढ़ते साइबर अपराध पर जनजागरूकता के लिए पुलिस चलाएगी अभियान

महिलाओं की शिकायतों पर प्राथमिकता से निस्तारण करने का दिया निर्देश

सोनभद्र । अपर पुलिस महानिदेशक, वाराणसी जोन बृज भूषण ने जनपद सोनभद्र के भ्रमण एवं निरीक्षण कार्यक्रम के तहत आज जनपद में आगमन के पश्चात पुलिस लाइन चुर्क स्थित सभागार में समस्त राजपत्रित अधिकारी/प्रभारी निरीक्षक/थानाध्यक्ष के साथ अपराध एवं कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक की। समीक्षा बैठक के दौरान एडीजी सीओ समेत इंस्पेक्टरों के जवाब से संतुष्ट नहीं दिखे। उन्होंने आगामी पंचायत चुनाव को ध्यान में रखते हुए सभी को सतर्क रहने और अपने कार्यप्रणाली में सुधार लाने की बात कही। बैठक के दौरान एडीजी ने मिशन शक्ति के बारे में भी जानकारी ली और अपने क्षेत्रों में मिशन शक्ति के कार्यक्रमों व महिलाओं की शिकायतों को प्राथमिकता से निस्तारण करने का निर्देश दिया। वहीं अपराध व अपराधियों पर एडीजी ने सख्त लहजे में कहा कि जनपद में किसी भी क्षेत्र में अपराध व माफियाओं को पनपने न दें बल्कि उन पर सख्त कार्यवाही करें। वहीं एडीजी ने पुलिस कार्यालय में स्थापित महिला प्रकोष्ठ/विशेष जांच प्रकोष्ठ का मुआयना भी किया तथा सम्बंधित प्रभारी को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया।

समीक्षा बैठक के उपरान्त एडीजी मीडिया से मुखातिब हुए। इस दौरान उन्होंने कहा कि अपर पुलिस महानिदेशक ने बताया कि जिले में अब तक 38 आपराधिक मामलों में 16 करोड़ 40 लाख की संपत्ति जब्त की गई है। वहीं 201 अपराधियों के खिलाफ़ गैंगेस्टर एक्ट की कार्यवाही की गई है। कुछ अपराधियों पर रासुका के तहत भी कार्यवाही की गई है।

अपर पुलिस महानिदेशक ने कहा कि गिरोह बन्द अपराधियों पर पुलिस निगाह रखे हुए है और उनके संपत्तियों की जांच की जा रही है। यदि गिरोह बन्द अपराधियों द्वारा कोई भी सरकारी व गैर सरकारी जमीन कब्जा किया गया होगा तो इसके खिलाफ संबंधित विभाग के सहयोग से अभियान चलाकर प्रभावी कार्यवाही करायी जाएगी।

वहीं उन्होंने कहा कि नशे का कारोबार चलाने वालों की भी संपत्ति की जांच होगी और कार्यवाही की जाएगी।

खनन माफियाओं को सख्त संदेश देते हुए एडीजी ने कहा कि खनन क्षेत्र में जिस तरह से वर्चस्व व अवैध खनन की बात सामने आती है, वहां भी खनन माफियाओं को चिन्हित कर कार्यवाही की जाएगी और उनकी संपत्ति भी जब्त की जाएगी।

वहीं एडीजी के बढ़ते साइबर अपराध को कंट्रोल करने के लिए जनजागरूकता बढ़ाने की बात कही साथ ही पुलिसकर्मियों को साइबर अपराध पर लगाम लगाने के लिए निर्देशित किया।

गोष्ठी में पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र प्रसाद सिंह सहित अपर पुलिस अधीक्षक मुख्यालय/ऑपरेशन, समस्त क्षेत्राधिकारी, समस्त प्रभारी निरीक्षक/थानाध्यक्ष सहित अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!