जिलाधिकारी द्वारा कलेक्ट्रेट कार्यालय का किया गया औचक निरीक्षण

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । जिलाधिकारी पुलकित खरे द्वारा आज बुधवार को कलेक्ट्रेट कार्यालय का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा कर्मचारियों की उपस्थिति व राजस्व सहायक तथा शस्त्र अनुभाग के पटलों से संबंधित पत्रावलियों की जांच की गई। राजस्व पटल सहायकों के कार्यों का निरीक्षण के दौरान रजिस्टर ऑफ रजिस्टर में विरासत पेंशन व जन सूचना से संबंधित अभिलेख अपडेट ना होने पर एक सप्ताह के अंदर उपरोक्त रिकार्डो को अपडेट करते हुए प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए। उन्होंने कहा कि रजिस्टर ऑफ रजिस्टर में दर्ज सभी रजिस्टरों को नियमित अपडेट किया जाए इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। उन्होंने कहा कि कोई भी पत्रावली अधिक समय तक लंबित ना रहे, समस्त पटल सहायक संबंधित कार्यों को ससमय संपन्न किए जाए।
निरीक्षण के दौरान शस्त्र लिपिक पटल से सम्बन्धित कार्यों के निरीक्षण के दौरान शस्त्र लाइसेंस नवीनीकरण, विरासत, निलम्बन, निरास्तीकरण से सम्बन्धित पत्रावलियों की जांच की गई।
इस दौरान विरासत सम्बन्धी समस्त तहसीलों एवं थानों पर लम्बित प्रकरणों की सूची एक सप्ताह के अन्दर उपलब्ध हेतु निर्देशित किया गया तथा नगर मजिस्ट्रेट को निर्देशित किया गया कि समस्त थानाध्यक्षों को समय निर्धारित करते हुये लम्बित प्रकरणों को बुलाकर तत्काल निस्तारित किया जाये तथा निर्देशित किया जाये कि कोई भी प्रकरण अधिक समय तक लम्बित न रहे अन्यथा की स्थिति में कठोर कार्यवाही की जायेगी। दाखिला पत्रावली सम्बन्धी प्रकरणों की जांच के दौरान अधिक समय से लम्बित प्रकरणों के सम्बन्ध में सम्बन्धित को कारण बताओ नोटिस देने के साथ साथ निर्देशित किया गया कि दाखिला सम्बन्धी पत्रावलियां अधिक समय तक लम्बित न रहे तथा अभिलेखों को 30 जनवरी तक अपडेट कर उपलब्ध कराने हेतु निर्देशित किया गया। इस दौरान गार्ड पत्रावली को भी अपडेट करने हेतु निर्देशित किया गया। उन्होंने कहा कि वरासत व नवीनीकरण हेतु प्राप्त पत्रावलियों की जांच कर तत्काल कार्यवाही की जाये। उन्होंने कहा कि समस्त शस्त्र रजिस्टर नियमित अपडेट किये जाये।
निरीक्षण के दौरान नगर मजिस्ट्रेट अरूण कुमार सिंह, सहित सम्बन्धित कर्मचारीगण उपस्थित रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!