जिलाधिकारी द्वारा प्राथमिक विद्यालय टण्डोला व चाटडाॅग के प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालय का किया गया आकस्मिक निरीक्षण

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

जिलाधिकारी द्वारा मिशन कायाकल्प के तहत कराये गये कार्यों का किया गया निरीक्षण।

पीलीभीत । जिलाधिकारी पुलकित खरे द्वारा आज सोमवार को विकासखण्ड मरौरी के प्राथमिक विद्यालय टण्डोला व प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालय चाटडाॅग उर्फ बल्देवपुर का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा विद्यालयों में अध्यापकों की उपस्थिति एवं मिशन कायाकल्प के अन्तर्गत कराये गये कार्यों का निरीक्षण किया गया। विद्यालय में अध्यापकों की उपस्थिति की जांच के दौरान प्राथमिक विद्यालय टण्डोला की अध्यापिका शिखा अग्रवाल व मीना अग्रवाल अनुपस्थित पाई गई तथा पूर्व माध्यमिक विद्यालय चाटडाॅग उर्फ बल्देवपुर की सहायक अध्यापिका कविता सिंह व प्रेम शंकर अनुपस्थित पाये गये प्रधानाध्यापिका द्वारा अवगत कराया गया कि कविता सिंह आकस्मिक अवकाश पर व प्रेम शंकर की ड्यूटी बीएलओ के कार्य में होने के कारण अन्य ग्राम में कार्य हेतु गये हैं। प्राथमिक विद्यालय चाटडाॅग में गीता अनुपस्थित पाई गई। इस दौरान जिलाधिकारी द्वारा जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि बिना अनुमति के अनुपस्थित अध्यापक/अध्यापिकाओं का एक-एक दिन का वेतन नो वर्क नो पे के आधार पर काटा जाये।
निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा पूर्व माध्यमिक व प्राथमिक विद्यालय चाटडाॅग बल्देवपुर में शौचालय व्यवस्था, पुस्तकालय, बच्चों की खेल सामग्री, पेयजल व्यवस्था, पोषण क्यारियां, रसोईघर व मिशन कायाकल्प के तहत कराये जा रहे कार्यों का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान उपरोक्त विद्यालय में शौचालय कार्य अपूर्ण, कमरों में टाइल्स का कार्य नही कराया गया, लाइब्रेरी की व्यवस्था ठीकठाक नही पाई, रसोई घर में साफ सफाई व्यवस्था ठीक न होने पर तत्काल साफ सफाई कराने के निर्देश दिये गये। पूर्व माध्यामिक विद्यालय में प्रधानाध्यापिका द्वारा कम्पोजिट ग्रन्ट के तहत उपयोग की धनराशि के बिल वाउचर उपलब्ध न कराने पर असंतोष व्यक्त किया गया। विद्यालय की बाउण्ड्रीवाल टूटी पाये जाने पर ठीक कराने हेतु निर्देशित किया गया। विद्यालय का गैस सिलेण्डर प्रधान के घर पर बताये जाने पर तत्काल लाने हेतु निर्देशित किया गया। प्राथमिक विद्यालय चाटडाॅग मे कमरों में टाइल्स का कार्य नही कराया गया। प्रधानाध्यापक द्वारा कम्पोजिट ग्रान्ट में व्यय की गई धनराशि का विवरण न उपलब्ध कराने के कारण आवश्यक कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया। विद्यालय के बाहर पानी भरा होने के कारण सम्बन्धित सचिव का स्पष्टीकरण करने के साथ व्यवस्था ठीक न किये जाने तक वेतन रोकने के निर्देश दिये गये।
निरीक्षण के दौरान मिशन कायाकल्प के अन्तर्गत कराये गये कार्यों का निरीक्षण करते हुये टाइल्स का कार्य तत्काल पूर्ण कराने के साथ साथ सभी मानकों को पूर्ण कराने हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया गया। इस दौरान उन्होंने विद्यालय में बच्चो के खेलकूद का सामान व स्थापित पुस्तकालय का भी निरीक्षण करते हेतु प्रधानाध्यापक को पुस्तकों सही क्रम में लगाने व लाइब्रेरेरी में पुस्तकों की संख्या का बढ़ाने के निर्देश दिये गये तथा शिक्षकों को शिक्षा की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने हेतु प्रेरित किया गया।
जिलाधिकारी द्वारा प्राथमिक विद्यालय टण्डोला के निरीक्षण में सभी व्यवस्थाऐं ठीकठाक पाई गई। विद्यालय में वयवस्थित ढ़ंग से लाइब्रेरी पाई गई, किचन में गन्दगी होने के कारण साफ सफाई कराने के निर्देश दिये गये। विद्यालय के क्लास रूमों में टाइल्स का कार्य पूर्ण पाया गया। शौचालय व किचन में भी टाइल्स लगे पाये गये।
इस दौरान जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, सचिव, प्रधानाध्यापक सहित विद्यालय के अध्यापकगण उपस्थित रहे।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!