60 लाख की लागत से बन रहे विद्युत उपकेंद्र का धीमी गति निर्माण कार्य से आक्रोश

अरविंद चौबे (संवाददाता)

मारकुंडी । राबर्ट्सगंज विकास खण्ड क्षेत्र के अन्तर्गत मुख्य मार्ग स्थित सलखन फासिल्स पार्क के समीप माह जुलाई से ही एक नया विद्युत उप केन्द्र का निर्माण कार्य चालू कराया गया था लेकिन 6 माह के पश्चात भी निर्माण कार्य काफी धीमी गति से चलने से लोगो में आक्रोश व्याप्त है।

बताते चलें कि मारकुंडी घाटी से लेकर पहाड़ी ग्रामीण अंचलों समेत सलखन, पटवध होते हुए मकरीबारी, रौवा, चिरुई से लेकर बिहार बार्डर झरिया, चकरिया, ससनई तक विद्युत की सप्लाई गुरमा विद्युत फीटर छपका से किया जाता था जिससे विद्युत उपभोक्ताओं समेत कर्मचारियों को भी छोटी बड़ी फाल्ट को लेकर काफी परेशानीया उठानी पड़ती थी। इन्हीं समस्याओं को देखते हुए पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम के द्वारा सलखन में विद्युत उपकेंद्र का निर्माण जुलाई से ही कार्य शुरू करा दिया गया था। लेकिन 6 माह में मात्र एक भवन का ही निर्माण हुआ है। शेष बाउंड्री समेत सभी कार्य बाकी है। जिससे सभी गुरमा विद्युत उपभोक्ताओं में आक्रोश व्याप्त है।

इस सम्बन्ध में विभागीय जेई बिपीन कुमार ने बताया कि वर्षात के साथ ठिकेदार के रनिंग पेमेंट समय से न होने के कारण 25 सौ इस्क्वॉयर मीटर में 60 लाख की लागत से विद्युत उपकेंद्र का निर्माण कार्य शुरू किया गया है जो सन् 2021मार्च में बनाने का लक्ष्य रखा गया है।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!