चौदह दिन बीत जाने के बाद भी नहीं हुआ धान खरीदी का भुगतान, किसान परेशान

धर्मेन्द्र गुप्ता (संवाददाता)

विंढमगंज । दुद्धी ब्लाक के महुली लैम्पस पर दो सप्ताह पहले धान की बिक्री किए किसानों का भुगतान नहीं हो सका। किसान राजकुमार यादव, रमेश कुमार, बाबू लाल कनौजिया, मुनेश गुप्ता ने बताया कि 28 नवंबर को लैम्पस पर हम लोगों ने धान बेची है। सरकार एक तरफ कहती है कि किसानों का पैसा 24 घंटे के अंदर उनके खाते में चले जाएंगे पर 14 दिन बीत जाने के बाद भी पैसा नहीं आया। वहीं बिक्री के लिए अपने पास से बोरा दिया गया। बोरी भी वापस नहीं किया गया। किसानों ने बताया कि शादी-विवाह का सीजन चलने से खर्चा काफी बढ़ गया है। किसानों ने इस आशा के साथ धान की बिक्री किया था कि समय से पैसे मिल जाएंगे तो शादी-विवाह में कुछ मदद हो सकेगी। परन्तु सरकार की ढुलमुल नीति से हम किसानों के सामने विकट समस्या उत्पन्न हो गई है। किसानों ने जिलाधिकारी का ध्यान इस ओर आकृष्ट करते हुए धान का पैसा जल्द से जल्द भुगतान कराने की मांग की है।

इस बाबत लैम्पस सचिव परमेश्वर यादव ने बताया कि “बोरी का पैसा 12 रुपए प्रति बोरी के दर से किसानों के खाते में चला जाएगा। धान की खरीदी आन लाइन हुई है। भुगतान के सम्बन्ध में हम नहीं बता सकते।”

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!