जांच आख्या उपलब्ध न कराने वाले 15 अधिकारियों का रुका वेतन

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । जिलाधिकारी पुलकित खरे द्वारा बेसिक शिक्षा विभाग में वर्ष 2018-19 में स्थापित पुस्तकालय एवं वर्ष 2018-19 व 2019- 20 में स्पोर्ट्स मदों में प्रेषित की गई धनराशि के सत्यापन हेतु न्याय पंचायत स्तर पर अधिकारियों को नामित कर जांच आख्या प्रेषित करने हेतु निर्देशित किया गया था संबंधित अधिकारियों को दो स्मरण पत्र व चेतावनी जारी करने के उपरांत भी जांच आख्या उपलब्ध न कराने के कारण असंतोष व्यक्त करते हुए जांच आख्या उपलब्ध न कराए जाने तक 15 अधिकारियों का वेतन रोकने के निर्देश दिए गए हैं। जोकि निम्नवत् हैः- नामित अधिकारी सहायक विकास अधिकारी (पंचायत) विकासखण्ड अमरिया न्याय पंचायत बांसखेडा, उप निदेशक मण्डी समिति पीलीभीत विकास खण्ड बरखेडा न्याय पंचायत भोपतपुर, जिला क्षयरोग अधिकारी विकासखण्ड बरखेड़ा न्याय पंचायत रामनगर जगतपुर, स्वास्थ शिक्षा अधिकारी विकासखण्ड बरखेडा न्याय पंचायत जोगीठेर, प्रभारी चिकित्सा अधिकारी बरखेड़ा विकास खण्ड बरखेड़ा न्याय पंचायत बढेरा, बाल विकास परियोजना अधिकारी विकासखण्ड बिलसण्डा न्याय पंचायत मीरपुर हेमूपुरा, बाल विकास परियोजना अधिकारी विकासखण्ड बीसलपुर न्याय पंचायत अमृताखास, अधिशासी अभियन्ता पी0डब्लू0डी0प्रा0खण्ड विकासखण्ड बीसलपुर न्याय पंचायत अमराकरोड़, जिला पिछडा वर्ग कल्याण अधिकारी पीलीभीत विकासखण्ड ललौरीखेड़ा न्याय पंचायत सरौरी, उप दुग्ध शाला विकास अधिकारी विकासखण्ड मरौरी न्याय पंचायत भमौरा, अधिशासी अभियन्ता शारदा सागर खण्ड विकासखण्ड पूरनपुर न्याय पंचायत जमुनिया, अधिशासी अभियन्ता विद्युत विकास खण्ड न्याय पंचायत चांदूपुर, प्रभारी चिकित्सा अधिकारी सी0एच0सी0 पूरनपुर न्याय पंचायत शाहगढ़, सचिव मण्डी समिति पूरनपुर न्याय पंचायत चतीपुर एवं अधीक्षक सी0एच0सी पूरनपुर न्याय पंचायत पिपरिया दुलई के वेतन रोकने के निर्देश दिये गये।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!