जुगैल हत्याकांड : पोस्टमार्टम रिपोर्ट से नहीं हुई रेप की पुष्टि, मगर चोट के मिले निशान

जनपद न्यूज ब्यूरो

– पुलिस फूंक-फूंक कर रख रही कदम

– आज जिलाधिकारी ने भी किया घटना स्थल का दौरा

– कई लोगों से पुलिस कर रही पूछताछ

सोनभद्र । जुगैल थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत बेलगड़ी चकवडीया में एक विवाहिता की हत्या के मामले में पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिल चुका है । तीन डॉक्टरों के पैनल ने मृतक महिला का पोस्टमार्टम किया । पूरे पोस्टमार्टम की बीडीओ रिकार्डिंग भी कराई गई । परिजनों के साथ पुलिस को भी पोस्टमार्टम रिपोर्ट का बेसब्री से इंतजार था । पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने अपना एक वीडियो बयान जारी कर रिपोर्ट के बारे में बताया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि महिला के साथ रेप की पुष्टि नहीं हुई हौ लेकिन वावजूद इसके जांच के लिए स्लाइड बाहर भेजा जा रहा है । उन्होंने बताया कि महिला के गले व आंख के पास चोट के निशान पाए गए हैं । एसपी ने बताया कि घटना के खुलासे के लिए टीमें बनाई गई हैं, साथ ही कुछ लोगों से पूछताछ भी चल रही है ।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद भले ही रेप की पुष्टि नहीं हुई लेकिन जिस तरीके से महिला का वैवाहिक कार्यक्रम से कुछ दूरी पर शव बरामद होना और उसके शरीर पर चोट के निशान पाया जाना इस बात को दर्शाता है कि महिला के साथ जोरजबरदस्ती की गई ।
बहरहाल पुलिस ने मृतिका के परिजनों के तहरीर पर 376 का मुकदमा दर्ज कर जांच कर रही है। पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट में रेप की पुष्टि न होने के बाद भी किसी प्रकार का रिस्क नहीं लेना चाहती इसलिए एक बार फिर जांच के लिए स्लाइड बाहर भेजा गया है । ताकि परिजनों द्वारा रेप के बाद हत्या का आरोप में पुलिस खुद के दामन को साफ-पाक रखना चाहती है ।
कुल मिलाकर अब देखना दिलचस्प होगा कि पुलिस के खुलासे में क्या निकलकर सामने आता है ।

आपको बतादें कि सोमवार को मृतिका अपने परिवार वालों के साथ गांव में ही एक शादी समारोह में गई थी। देर रात मृतिका के के पिता शादी समारोह से वापस घर लौट आये । लेकिन कामकाज को लेकर उसकी बेटी वहां रुक गयी। बताया जा रहा है कि लगभग 3 बजे मृतिका अपने घर के लिए निकली लेकिन वह घर नहीं पहुंची और सुबह चरवाहे ने उसके शव को देखकर पुलिस को सूचना दिया । जिसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। जबकि मृतिका के परिजन रेप के बाद हत्या का आरोप लगाते हुए तहरीर दी थी ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!