जिलाधिकारी ने जल्द से जल्द किसानों के धान खरीदारी के लिए दिया आदेश

अबुलकैश डब्बल ब्यूरो
* समय से भुगतान भी करने को कहा

चंदौली। जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में धान क्रय से संबंधित बैठक संपन्न हुई। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने कड़े निर्देश में नोडल अधिकारियों एवं धान क्रय एजेंसियों के प्रतिनिधियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद धान का कटोरा कहलाता है, यहां के प्रत्येक किसानों का धान समय से खरीद कर उनको न्यूनतम समर्थन मूल्य का भुगतान ससमय सुनिश्चित हो । इसमें किसी भी स्तर पर लापरवाही संज्ञान में आई तो कठोर कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। साथ ही किसानों को टोकन प्रदान किया जाए। नियत तिथि पर उनका धान क्रय किया जाए। प्रति केंद्र 300 कुंटल की खरीद प्रति काटा निश्चित रूप से करनी है। सभी नोडल अधिकारियों एवं जिला स्तरीय अधिकारियों को क्रय केंद्रों का नियमित निरीक्षण किया जाना है। उन्होंने कहा कि किसी भी दशा में हमारे किसान भाइयों का धान क्रय केंद्रों पर ही खरीदा जाना सुनिश्चित हो। क्योंकि दिसंबर एवं जनवरी में जनपद में व्यापक पैमाने पर धान की आवक होती है। इसलिए पूरी सक्रियता के साथ किसानों का धान क्रय किया जाए। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि प्रत्येक केंद्र पर 2500 बोरियां, नमी मापक यंत्र की उपलब्धता सुनिश्चित हो, किसानों को बैठने आदि की पर्याप्त व्यवस्था हो। साथ ही पारदर्शिता के साथ किसानों का धान खरीद सुनिश्चित किया जाए क्रय केंद्रों पर धान स्टोरेज की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित हो साथ ही खरीदे गए धान को समय से संबंधित मिलों में प्रेषित करते रहें।
उन्होंने कहा कि प्रत्येक क्रय केंद्रों पर एक लेखपाल/अमीन एवं एक कृषि विभाग का कर्मी अवश्य मौजूद रहेंगे। 300 क्विंटल प्रति केंद्र खरीद आवश्यक है। प्रत्येक दिन का टोकन रजिस्टर नियमित अपडेट रखा जाए। साथ ही अगले एक सप्ताह का टोकन रजिस्टर एडवांस में तैयार रखा जाए । रजिस्टर में किसानों का मोबाइल नंबर अवश्य अंकित किया जाए।
श्री चहल ने बैठक के दौरान अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सभी केंद्रों पर पर्याप्त संख्या में बोरों की प्रबंध सुनिश्चित किया जाए। किसी क्रय केंद्र पर बोरे के अभाव में धान खरीद न होने की शिकायत संज्ञान में आई तो संबंधित के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। यदि कोई समस्या है तो तत्काल संबंधित अधिकारी को सूचित किया जाए ताकि समय से उसका निदान किया जा सके। धान खरीद में अधिकारियों की ड्यूटी ठीक से नहीं लगाए जाने एवं अधिकारियों को बैठक की सूचना नहीं होने पर बेहद नाराजगी जताते हुए डिप्टी आरएमओ को कड़ी फटकार लगाते हुए कार्यशैली में सुधार लाने के निर्देश दिए। उन्होंने स्पष्ट हिदायत देते हुए कहा कि किसी भी कीमत पर किसानों का धान क्रय केंद्रों पर अवश्य खरीद हो,बिचौलिया किसी भी दशा में हावी न हो यह सुनिश्चित करें अन्यथा कार्यवाही के लिए तैयार रहें आगे लापरवाही क्षम्य नहीं होगी ।
बैठक के दौरान अपर जिलाधिकारी (वि0रा0) अतुल कुमार, धान क्रय केंद्रों के नोडल अधिकारी, जिला स्तरीय अधिकारी, धान क्रय एजेंसियों के प्रतिनिधि सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!