सामुदायिक शौचालय में शिकायत पर भड़के डीएम, कहा- ग्राम प्रधान व सचिव से वसूली के सम्बन्ध में की जाये कार्यवाही-

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । जिलाधिकारी पुलकित खरे द्वारा ग्राम पंचायत दियूनी केसरपुर विकास खण्ड मरौरी ग्राम प्रधान/सचिव के द्वारा निर्मित कराये जा रहे सामुदायिक शौचालय के निर्माण के सम्बन्ध में आई शिकायत की जांच डिप्टी कलेक्टर योगेश कुमार द्वारा ग्राम प्रधान सालिक राम व सचिव भगवान स्वरूप द्वारा सामुदायिक शौचालय निर्माण गाटा संख्या 296 क्षे् 0.097 हेक्टेयर पर न करते हुये गाटा संख्या 293 क्षे 0.154 हेक्टेयर पर कराकर सरकारी धनराशि का दुरूपयोग करने में पूर्ण रूप से दोषी पाये गये है।
अवर अभियन्ता, ग्रामीण अभियन्त्रण विभाग, को नामित कर विकास खण्ड मरौरी के ग्राम पंचायत दियूनी केसरपुर में निर्मित कराये गये सामुदायिक शौचालय में ग्राम पंचायत द्वारा व्यय की गई धनराशि का मूल्यांकन कराने के निर्देश दिये गये हैं। मूल्यांकनोपरान्त प्राप्त दुरूपयोगित धनराशि की सम्बन्धित ग्राम प्रधान एवं सचिव से वसूली के सम्बन्ध में पंचायती राज अधिनियम की धारा 95-1-छ के अन्तर्गत कार्यवाही की जाये तथा सम्बन्धित लेखपाल के विरूद्व लापरवाही के लिए कार्यवाही की जाये।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!