शिक्षक, स्नातक निर्वाचन के लिए कराया गया प्रशिक्षण

अबुलकैश (डब्बल) ब्यूरो

मतदान से पूर्व आयोग की निर्देशिका का गहनता से अध्यन कर दिये गये निर्देशों का कड़ाई से पालन करना सुनिश्चित करें : जिलाधिकारी

चंदौली। जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल ने कहा कि उत्तर प्रदेश विधान परिषद के वाराणसी खण्ड स्नातक एवं शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र का द्विवार्षिक निर्वाचन-2020 को पूर्ण रूप से सुव्यवस्थित एवं निर्वाध रूप से सम्पन्न कराने के लिए आज मतदान अधिकारियों को प्राप्त कराया जाने वाला प्रशिक्षण बहुत महत्वपूर्ण है। अतः सभी प्रशिक्षण में दिए जा रहे दिशा-निर्देशों को गहनता और गम्भीरता के साथ ग्रहण करें और यदि किसी दायित्व को समझने में कोई शंका या भ्रम हो तो उसका प्रशिक्षणदाता से पूछ कर समाधान कर लें ताकि मतदान के समय किसी भी प्रकार का व्यवधान उत्पन्न न होने पाए। उन्होने निर्देश दिये कि समस्त पीठासीन अधिकारी 01 दिसम्बर, 2020 को होने वाले मतदान से पूर्व आयोग की निर्देशिका का गहनता से अध्यन करें और उसमें दिये गये निर्देशों का शत प्रतिशत कड़ाई से पालन करना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि मतदाता की पहचान 10 प्रकार के पहचान पत्रों के आधार पर मतदाता सूची से मिलान कर करेगे और किसी प्रकार का सन्देह होने पर पीठासीन अधिकारी को अवगत कराये।
जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल की अध्यक्षता में आज कृषि विज्ञान केंद्र के सभागार में उत्तर प्रदेश विधान परिषद के वाराणसी खण्ड स्नातक एवं शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र का द्विवार्षिक निर्वाचन-2020 को सुचारू रूप से सम्पन्न कराने हेतु मतदान कार्मिक/पीठासीन अधिकारियों को प्रशिक्षण प्रदान किया गया है।जिला निर्वाचन अधिकारी ने समस्त पीठासीन अधिकारियों/मतदान अधिकारियों को आश्वस्त करते हुए कहा कि पूरी निर्भीकता और स्वतंत्रता के साथ अपने दायित्वों को ईमानदारी के साथ निर्वहन करें, उनकी सुरक्षा के लिए हर समय पुलिस बल मौजूद रहेगा। उन्होने कहा कि जिला प्रशासन जिले में शांतिपूर्वक एवं निष्पक्ष रूप से सम्पूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया सम्पन्न कराने के लिए तत्पर और कटिबद्व है और इस के लिए समस्त तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं। उन्होने समस्त अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सम्पूर्ण निर्वाचन कोविड-19 की गाइडलाइनों के अनुसार सम्पन्न कराना है और मतदान स्थलों पर मास्क, सेनेटाइजेशन की समुचित व्यवस्था की जाये। उन्होने कहा कि किसी भी मतदाता को बिना मास्क के अनुमति न दी जाये और समय-समय पर हाथों को भी सेनेटाईज कराया जाये। उन्होने कहा कि शिक्षक/स्नातक मतदान के लिये 20 केंद्र व 35 बूथ जनपद में बनाये गये है। मतदेय स्थलों पर सुबह 08:00 बजें से प्रारम्भ होकर शाम 05:00 बजें तक चलेगा। उन्होने कहा कि यदि किसी मतदाता का तापमान जाॅच में अधिक पाया जाता है तो उसे शाम 04:00 बजें के बाद मतदान करने की व्यवस्था होगी।
“इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी/प्रभारी अधिकारी-मतदान कार्मिक डॉ अभय कुमार श्रीवास्तव, मुख्य चिकित्साधिकारी, जिला विकास अधिकारी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, उपनिदेशक कृषि सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।”

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!