आलू पचास के पार जाने को बेकरार, लोगों की थाली में लगी आग

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

● दामों में अचानक उछाल से आम आदमी की थाली से दूर हो रही आलू

● दोगुने तक बढ़ गए सब्जियों के दाम

● 40 फीसदी तक उछले भाव

सोनभद्र । हर मौसम गरीबों एवं आम जनता की थाली में मौजूद रहने वाले आलू की कीमतों में पिछले कुछ दिनों में दुगुना उछाल आने से गरीबों की थाली से लुड़कने लगा है। दूसरी सब्जियों की कीमत तो दूर आलू की कीमत पूछकर गरीब लोग जेब की तरफ झांकने लगते हैं। आलू तकरीबन हर सब्जी का साथी माना जाता है। गरीबों की थाली में कुछ हो न हो लेकिन आलू की सब्जी से काम चल जाता था, लेकिन अभी आलू ने जो रफ्तार पकड़ी है। उससे वह भी गरीबों की थाली से दूर होती दिखाई पड़ रही है। पिछले एक हफ्ते में आलू के दामों में अचानक उछाल आया है।

तेजी का क्रम यदि इसी तरह बना रहा तो वह दिन दूर नहीं जब आलू का भाव पचास पार कर जायेगा। वहीं टमाटर, प्याज परवल, गोभी, धनिया के दाम एक सप्ताह में 30-40 फीसदी तक बढ़ गए हैं।

जिला मुख्यालय के बाजारों में एक हफ्ते पहले आलू का भाव 20-22 रुपए था, वह आज 45 से 48 रुपए प्रति किलो की दर से बिक रहा है। महंगाई के इस आहट से बेफिक्र गरीबों को आलू ने जोर का झटका दिया है। जिस कारण गरीबों के चेहरों की हवाईयां उड़ गयी है। उन्हें आलू में भी प्याज की वो पुरानी तस्वीर दिखाई पड़ रही है।

आलू व्यवसायियों की मानें तो बाजारों में आलू की आवक में भारी कमी के कारण आने वाले दिनों में आलू की कीमत में वृद्धि हुई है। इसका एक कारण पैदावार का कम होना भी है।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!