भारत ने आज पाकिस्तानी राजनयिक को नगरोटा एनकाउंटर से जुड़े दस्तावेज सौंपे

नगरोटा के नाकाम आतंकी साजिश में पड़ोसी मुल्क का नाम आने के बाद पाकिस्तान एक बार फिर दुनिया के सामने लगातार हो रही फजीहत से बचने की कोशिश कर रहा है । एक ओर जहां इस्लामाबाद अपनी छवि बचाने की जुगत कर रहा है वहीं दूसरी ओर भारत ने आज पाकिस्तानी राजनयिक को नगरोटा एनकाउंटर से जुड़े दस्तावेज सौंपे हैं ।

इसके साथ ही भारत की तरफ से पाकिस्तानी राजनयिक को यह भी बताया गया है कि नगरोटा में मारे गए सभी आतंकी जैश-ए-मोहम्मद आतंकी समूह का हिस्सा थे ।

जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में मारे गए आतंकियों के पास से बरामद क्यू कंपनी के मोबाइल सेट, लोकल जीपीएस और पाकिस्तान में बने वायरलेस सेट इस साजिश में पाकिस्तान के शामिल होने की खुलकर गवाही देते हैं । इस मामले में भारत ने नई दिल्ली में पाकिस्तान के राजनयिक को बुलाकर फटकार भी लगाई, लेकिन पाकिस्तान एक बार फिर से अपने पुराने रवैये पर कायम है।

इन सबूतों को खारिज करते हुए पाकिस्तान ने इस्लामाबाद में मौजूद भारतीय राजनयिक गौरव अहलूवालिया को समन किया था। अपनी आदत के मुताबिक पाकिस्तान भारत के आरोपों को गलत बताया था और कहा था कि भारत आधारहीन आरोप लगा रहा है ।

बता दें कि शनिवार को भारत ने इस मामले में नई दिल्ली स्थित पाकिस्तान के राजनयिक को तलब कर भारत की ओर से सबूतों के साथ फटकार लगाई थी। भारत के विदेश मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि नगरोटा में मारे गए आतंकी जैश-ए-मोहम्‍मद के सदस्‍य थे ।भारत ने कहा कि पाकिस्‍तान इन आतंकियों को पनाह देता है ।

विदेश मंत्रालय के बयान के मुताबिक आतंकियों के पास से भारी मात्रों में विस्‍फोटकों की बरामदगी दिखाती है कि वे बड़े हमले की प्‍लानिंग कर रहे थे ।भारत ने पाकिस्तान को दो टूक कहा कि पाकिस्तान आतंकियों और आतंकी समूहों को समर्थन देने की अपनी नीति से बाज आए और अपने यहां मौजूद उन कैंपों को नष्ट करे जहां दूसरे देशों में हमला करने की रणनीति बनाई जाती है और ट्रेनिंग दी जाती है ।

नगरोटा में मारे गए आतंकियों के पास से पाकिस्तान के क्यू कंपनी का मोबाइल, जीपीएस, पाकिस्तान में बना वायरलेस सेट बरामद हुआ है, लेकिन पाकिस्तान बड़ी बेशर्मी के साथ इन सबूतों को नकार रहा है । बता दें कि गुरुवार को जम्मू कश्मीर के नगरोटा में सुरक्षा बलों ने 4 आतंकवादियों को मार गिराया था। इन आतंकियों के पास से सेना ने भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद किया ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!