कोर्ट ने हत्या की एफआईआर दर्ज करने का दिया आदेश

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । हत्या से जुड़े एक मामले की दर्ज परिवाद पर सुनवाई के बाद मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी की अदालत ने अपना दल (एस) जिलाध्यक्ष व उनके बेटे समेत चार अभियुक्तों के खिलाफ रॉबर्ट्सगंज थानाध्यक्ष को दंड प्रकिया संहिता की धारा 156(3) के तहत एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है। यह आदेश मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने जिलाध्यक्ष के पोल्‍टी फॉर्म में काम करने वाले मजदूर की संदिग्ध परिस्थितियों की मौत के मामले में दिया है। उक्त मामले का परिवाद गीता देवी पत्नी अमरनाथ मौर्या नि0 कम्हारडीह ने दर्ज कराया था।

जानकारी के अनुसार राबर्ट्सगंज कोतवाली क्षेत्र के कुशीडौर में अपना दल (एस) के जिलाध्यक्ष सत्यनारायण पटेल का पोल्‍टी फॉर्म है। उनका बेटा मनीष पटेल इसका प्रबंधन देखता है। यहां सतेंद्र नामक युवक फार्म की देखरेख किया करता था। इस साल 21 मई को संदिग्ध परिस्थितियों में सतेंद्र की मौत हो गई थी और पोल्‍टी फॉर्म में उसका शव मिला था। मृतक के परिजन हत्या की आशंका जाहिर कर रहे थे। स्थानीय थाने में शिकायत ना लिखे जाने पर पीड़ित परिवार ने कोर्ट की शरण ली। मृतक की मां गीता देवी की याचिका की सुनवाई पर कोर्ट ने मुकदमा दर्ज किए जाने के आदेश दिया है।

पीड़ित पक्ष के वकील अनिल मौर्या ने बताया कि “घटना के दिन सतेंद्र ने अपनी पत्नी को फोन कर कहा था कि मनीष पटेल से हमारा विवाद हो गया है। कुछ देर बाद पता चला कि सतेंद्र को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। परिजनों ने थाने में शिकायत की पर राजनीतिक रसूख के चलते कोई कार्रवाई नहीं हो पा रही थी।”

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!