बिहार चुनाव में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन को लेकर वरिष्ठ पार्टी नेताओं ने खोला मोर्चा

बिहार चुनाव में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन को लेकर पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेताओं ने एक बार फिर मोर्चा खोला है । इस बीच वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने मंगलवार को बागी नेताओं पर निशाना साधते हुए ऐसे पार्टी सदस्यों को ‘शंकालु व्यक्ति’ करार दिया, जो समय-समय पर ‘चिंता के दर्द’ झेलते रहते हैं।फेसबुक पर लिखी अपने पोस्ट में सलमान खुर्शीद ने मुगल बादशाह बहादुर शाह जफर की लाइनों से शुरुआत करते हुए लिखा, ‘न थी हाल की जब में खबर रहे देखते औरों के ऐबो हुनर, पड़ी अपनी बुराइयों पर जो नजर तो निगाह में कोई बुरा न रहा ।’ मुगल बादशाह जफर अपने आलोचकों से अपनी कमियों को नजरअंदाज ना करने की सलाह दे रहे हैं।पूर्व केंद्रीय मंत्री ने अपनी पोस्ट में आगे लिखा, ‘अगर मतदाता पार्टी के लिबरल मूल्यों को अहमियत नहीं दे रहे हैं, जिनका हम संरक्षण करते हैं, तो हमें सत्ता में आने के लिए शॉर्टकट तलाशने के बजाय लंबे संघर्ष के लिए तैयार रहना चाहिए। ‘बता दें कि कपिल सिब्बल सहित वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओं ने हाल में संपन्न बिहार चुनाव में पार्टी के निराशाजनक प्रदर्शन पर सवाल उठाते हुए समीक्षा की मांग की थी बिहार चुनाव में कांग्रेस और राजद के गठबंधन को बीजेपी और नीतीश की अगुआई वाले गठबंधन के मुकाबले हार का सामना करना पड़ा । राज्य में एक बार फिर नीतीश की अगुआई में एनडीए की सरकार बनी है ।हालांकि महागठबंधन के सहयोगी दलों में से एक आरजेडी राज्य चुनावों में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है, जबकि वाम दलों ने 29 में 16 सीटों पर जीत हासिल की। कांग्रेस के हिस्से में 70 सीटें थीं, लेकिन पार्टी को सिर्फ 19 सीटों पर जीत मिली । तेजस्वी यादव की अगुआई वाली राजद के कुछ नेताओं ने भी महागठबंधन की हार के लिए कांग्रेस को दोषी ठहराया था ।बिहार से ताल्लुक रखने वाले कांग्रेस नेता और पार्टी महासचिव तारिक अनवर ने पिछले हफ्ते स्वीकारा था कि कुछ गलतियों की वजह से महागठबंधन के अन्य सहयोगियों के मुकाबले कांग्रेस का प्रदर्शन खराब रहा है । अनवर ने कहा कि पार्टी नेतृत्व बिहार चुनाव परिणाम को लेकर गंभीर है और आने वाले दिनों में इसकी समीक्षा की जाएगी ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!