जिलाधिकारी लापरवाह और भ्रष्टाचार में संलिप्त प्रधानों पर सख्त

फ़ैयाज़ खान मिस्बाही (ब्यूरो)

गाजीपुर । जिलाधिकारी एमपी सिंह ने जिले के लापरवाह और भ्रष्टाचार में संलिपत प्रधानों पर निगाहें तीखी की है। डीएम के सख्त रुख से पंचायती राज विभाग और अधिकारियेां में हडकंप है।जिलाधकिारी ने प्रधानों के विरूद्ध शिकायती प्रार्थना पत्रों की जॉच के सम्बन्ध में नामित नोडल अधिकारी/अतिरिक्त नोडल अधिकारियों के साथ बैठक की।डीएम ने साफ तौर पर चेतावनी दी कि भ्रष्टाचार और गबन में संलिप्त पंचायत सचिवों को जांच में दोषी पाए जाने पर जेल भेजा जाएगा।
जिलाधिकारी एम पी सिंह के अध्यक्षता की बैठक मे जिलाधिकारी ने उपस्थित जॉच अधिकारियों से प्राप्त शिकायतो के प्रारम्भिक जॉच की बात कही।निर्देशित किया कि शिकायतों के सम्बन्ध मे किसी प्रधान या उप प्रधान के विरूद्ध शिकायत करने वाला कोई व्यक्ति अपनी शिकायत सरकार या राज्य सरकार द्वारा इस निमित्त सशक्त किसी अधिकारी को भेज सकता है।नामित नोडल अधिकारी अपनी जॉच आख्या रिपोर्ट निष्पक्ष होकर भेजेंगे। इसमें किसी प्रकार की पैरवी क्षम्य नही होगी।इसका विशेष ध्यान दे।अगर किसी भी प्रधान, सेक्रेटरी या सरकारी कर्मचारी द्वारा सरकारी धन का गबन किया गया है उसे कत्तई बक्सा नही जायेगा तथा सम्बन्धित के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए उसे जेल भेजा जायेगा।अधिकारी शासन द्वारा जारी गाईड लाईन के अनुसार ही जॉच आख्या पूरी करते हुए निष्पक्ष होकर जॉच रिपोर्ट प्रस्तुत करेगे।बैठक में जिलाधिकारी ने विभागवार पेंडिंग शिकायत पत्रो के निस्तारण की समीक्षा की जिनके द्वारा अभी तक वर्ष 2019 के प्राप्त शिकायत पत्रों का निस्तारण नही होने पर नाराजगी जताई।उन्होंने अविलम्ब निस्तारण का निर्देश दिया।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!