लड़ाकू विमानों में शुमार राफेल की दूसरी खेप पहुंची भारत

दुनिया के सबसे खतरनाक लड़ाकू विमानों में शुमार राफेल की दूसरी खेप भारत पहुंच चुकी है । इसके साथ ही भारत की वायुसेना की ताकत और बढ़ गई है। तीन राफेल विमान बुधवार को रात 8 बजकर 14 मिनट पर भारत में दाखिल हुए । तीनों राफेल विमान फ्रांस से उड़ान भरने के बाद सीधे गुजरात के जामनगर पहुंचे हैं ।

तीनों विमानों के भारत में दाखिल होने के साथ चीन और पाकिस्तान की टेंशन बढ़ना तय है । राफेल विमानों के सफलतापूर्वक पहुंचने पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने वायुसेना को बधाई दी है । इसी के साथ भारत के पास अब 8 राफेल विमान हो गए हैं । इससे पहले पांच राफेल विमानों का पहला बेड़ा 28 जुलाई को भारत पहुंचा था। इन्हें 10 सितंबर को भारतीय वायुसेना में शामिल किया गया था। राफेल लड़ाकू विमानों की तैनाती पहले ही की जा चुकी है। LAC पर चीन के साथ जारी तनाव के बीच उन्हें लद्दाख में तैनात किया गया ।

अगले साल अप्रैल तक भारत को कुल 21 राफेल लड़ाकू विमान फ्रांस से मिलेंगे । 21 राफेल विमानों की डिलीवरी के साथ ही भारतीय वायुसेना की मारक क्षमता में अभूतपूर्व इजाफा होगा। बता दें कि भारत ने फ्रांस के साथ 36 राफेल लड़ाकू विमानों के लिए सौदा किया है ।

बता दें कि 29 जुलाई को 5 राफेल जेट अंबाला एयरबेस में पहुंचे थे। इन्हें वायुसेना के 17 स्क्वाड्रन में शामिल किया गया ।29 जुलाई को जो विमान भारत आए थे वे अबू धाबी में रुके थे और वहां पर इन विमानों में ईंधन भरा गया था । नवंबर के बाद जनवरी में राफेल को बनाने वाली कंपनी दसॉ एविएशन 3 और राफेल विमानों की डिलीवरी देगी। इसके बाद फिर मार्च में 3 और विमान भारत को सौंपा जाएगा ।अप्रैल 2021 में भारत को फ्रांस 7 और राफेल विमानों की डिलीवरी करेगा । इस तरह से भारत को अप्रैल 21 तक कुल 21 (5+3+3+3+7) राफेल विमानों की डिलीवरी मिल जाएगी ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!