आप ने देश में बढ रहे खाद्य पदार्थों व पेट्रोलियम पदार्थों के दामों के खिलाफ किया प्रदर्शन

अबुलकैश डब्बल ब्यूरो
* सौंपा ज्ञापन, किसान विरोधी अधिनियम को वापस लेने की महामहिम राष्ट्रपति से की मांग

चन्दौली।आम आदमी पार्टी चंदौली के कार्यकर्ताओं ने प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर आज जिलाधिकारी कार्यालय पर प्रदर्शन किया और बेतहाशा बढती महंगाई के खिलाफ जिलाधिकारी कार्यालय चंदौली पहुँच कर प्रदर्शन किया और और अपर जिलाधिकारी (न्यायिक) चंदौली अनिल कुमार त्रिपाठी को महामहीम राष्ट्रपति महोदय के नाम संबोधित ज्ञापन सौंपा ।
इस अवसर पर जिलाध्यक्ष कला प्रसाद सोनकरने कहा कि आज देश में आम आदमी के दैनिक उपयोग की लगभग सभी आवश्यक वस्तुओं के दाम आसमान को छू रहे हैं। हाल ही में आम आदमी के खाने पीने की वस्तुओं तक के दाम इतने बढ़ गए हैं, कि इसमें सरकार का तत्काल हस्तक्षेप आवश्यक है।
वरिष्ठ अधिवक्ता व आम आदमी पार्टी चंदौली के जिला प्रवक्ता संतोष कुमार पाठक एडवोकेट नें कहा कि आम आदमी पार्टी का ये मानना है कि बेतहासा बढती महंगाई के लिये जिम्मेदार मोदी सरकार द्वारा उठाये गए कई बेहद जनविरोधी कदम हैं।
हाल ही में पास हुआ कृषि बिल देश की पूरी कृषि अर्थव्यवस्था के लिए बेहद घातक है। इस बिल ने पूंजीपतियों को कृषि उपज की जमाखोरी की खुली छूट दे दी है जिसका सीधा शिकार किसान हुआ है और इन पूंजीपतियों के माध्यम से बिकने वाली कृषि उपज आम उपभोक्ता तक बेहद महंगी हो कर पहुँच रही है। संतोष कुमार पाठक एडवोकेट नें कहा कि साफ़ दिखाई पड़ रहा है कि मोदी सरकार ने पूंजीपतियों के लिए किसानों से सस्ते में अनाज, दाल और सब्जी आदि खरीद के जमा करके उसको बाजार में महंगे दामों में बेचने की खुली छूट दे दी है और देश के आम लोगों के साथ बड़ा धोखा किया है। जमाखोरी को खुली छूट देने वाले इस बिल को तत्काल वापस लिया जाये ।
जिला सचिव प्रवीण चौबे ने कहा कि नए बिल में MSP की व्यवस्था को बदनियती से, साजिशन समाप्त कर दिया है, किसान औने पौने दाम पर अपनी फसलें बेचने को मजबूर हो गए हैं, ऐसे ही चलता रहा तो देश का कृषि ढांचा पूरी तरह चरमरा जायेगा, और करोड़ों किसान या तो आत्महत्या के लिए विवश हो जायेंगे या मजबूरी में कृषि छोड़ कर मजदूर बन जायेंगे।
सी वाई एस एस के प्रदेश सचिव प्रभाकर वर्धन सिंह महज चंद पूंजीपतियों के प्रभाव में आ कर देश के अन्नदाता के साथ ये बहुत बड़ा धोखा किया गया है, और इसका खामियाजा कमरतोड़ महंगाई के रूप में देश की जनता को भुगतना पड़ रहा है। इस बिल को तत्काल वापस लिया जाये ।
डाक्टर दयाराम ने कहा कि जब से मोदी सरकार सत्ता में आई है, पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बेतहाशा बढ़ोत्तरी की गयी है।
दीपक सिन्हा ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें सबसे कम होने पर भी उत्तर प्रदेश समेत अन्य राज्यो के लोगों को इतना महंगा डीजल पेट्रोल बेचना बहुत निर्लज्जता का प्रदर्शन है। इतनी अधिक कीमतों के कारण उत्तर प्रदेश में ट्रांसपोर्टेशन बेहद महंगा हो गया है और सभी वस्तुओं के दामों पर इसका विपरीत प्रभाव पड़ा है। पेट्रोल डीजल पर से एक्साइज ड्यूटी को तत्काल घटा कर महंगाई को कम किया जाये।
कार्यकर्ताओं ने मांग की कि कि उत्तर प्रदेश के कृषि प्रधान प्रदेश होने के कारण सबसे ज्यादा प्रभाव यूपी के किसानों की उत्तर प्रदेश समेत अन्य राज्यो के इन गंभीर हालातों को समझते हुए महामहीम राष्ट्रपति महोदय अपने स्तर से तत्काल हस्तक्षेप करें और किसान सहित आम जनता को राहत दिलायें ।

इस अवसर पर जिलाध्यक्ष कला प्रसाद सोनकर , जिला प्रवक्ता वरिष्ठ अधिवक्ता संतोष कुमार पाठक, जिला सचिव प्रवीण चौबे, जिला संगठन मंत्री डाक्टर दयाराम, सी वाई एस एस के प्रदेश सचिव प्रभाकर वर्धन सिंह, दीपक सिन्हा, ओमप्रकाश भारती, विशाल तिवारी, मोहम्मद सुलेमान, प्रमोद मौर्य, रामजतन आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!