वन विभाग द्वारा मन्दिर का निर्माण कार्य रोके जाने का ग्रामीणों ने लगाया आरोप

धर्मेन्द्र गुप्ता (संवाददाता)

विंढमगंज । स्थानीय थाना क्षेत्र के विंढमगंज रेंज स्थित ग्राम पंचायत डुमरा के सहीमनवा पहाड़ी पर सार्वजनिक मन्दिर निर्माण को वन विभाग की टीम ने आज रोक दिया।इस घटना से ग्रामीण सहित दूर दराज के भक्तों में आक्रोश व्याप्त है। मंदिर की पुजेरिन शारदा देवी ने बताया कि पिछले 10 वर्षों से पहाड़ी पर वन देवी की पूजा पाठ अनवरत कर रही हूं और यहाँ भक्तो का ताँता लगा रहता है। पिछले पांच वर्षों से यहाँ शिव मन्दिर की स्थापना की गई है। क्षेत्र के सैकड़ो भक्तो का आना जाना यहाँ लगा रहता है।भक्तो के आस्था व सहयोग से मन्दिर की दीवार व पिलर पहले ही खड़ा हो चुका है।आज सुबह डोर लेबल पर ढलाई हेतु लगाए गए शटरिंग वनकार्मियों ने खोल कर हटा दिया और काम रुकवा दिया। नवरात्र की सप्तमी तिथि को देवी मंदिर निर्माण में वन विभाग के कर्मियों द्वारा बारजा आदि की तोड़फोड़ कर निर्माण कार्य रोकने से भक्तो में आक्रोश है।

हृदय नारायण,फूलवन्ती देवी, नन्दलाल ,कमलेश कुमार ,आनन्द ,सुनील ,अभय कुमार ,गंगा प्रसाद ,सोबरन, रवि कुमार आदि

ने बताया कि पहाड़ी स्थित मंदिर पर पिछले कई वर्षों से भक्तो का आना जाना खूब हो रहा है। यहाँ सच्चे मन से मांगने वाले की मनोकामना पूर्ण होती है जिसके कई उदाहरण है यहाँ मन्दिर निर्माण होना भक्तो के हित मे है वन विभाग की कार्यवाही गलत है । ग्रामीणो ने बताया कि उक्त पहाड़ी पर भगवान शंकर , वन शक्ति मैया ,शेषनाग , मैहर माई , बन देवी , बजरंग बली ,जटाधारी मैया , कंकाली मैया ,शीतला मैया,शिवहानिया बाबा आदि देवी देवताओं का आस्था केंद्र है।

उक्त प्रकरण में वन विभाग के रेंजर विजेंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि ग्रामीणों के द्वारा अवैध रूप से करहीया वन ब्लॉक के भू-भाग पर मंदिर का निर्माण किया जा रहा था जो सरासर गलत था। सूचना पर मैं खुद व वन विभाग की टीम के द्वारा मौके पर जाकर निर्माणाधीन मंदिर को गिरवा दिया गया है तथा पतरिहा गांव निवासी किसी व्यक्ति के द्वारा ग्रामीणों को उकसा कर इस तरह का वन विभाग की जमीन पर अवैध अतिक्रमण करने वाले मे हृदय नारायण भूईया पुत्र स्वर्गीय भूखन, शारदा देवी पत्नी हृदय नारायण, लाल मुनी भूईयां पुत्र स्वर्गीय भूखन भुईयां के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की जाएगी।
अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!