मिशन शक्ति के चौथे दिन घरेलू हिंसा व लैंगिक हिंसा का दिया गया प्रशिक्षण

कृपाशंकर पांडेय(संवाददाता)

ओबरा। उत्तर प्रदेश सरकार की पहल से मिशन शक्ति के अंतर्गत राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय की छात्राओं के लिये 17 अक्टूबर से 25 अक्टूबर तक चल रहे नव दिवसीय प्रशिक्षण के चौथे दिन ओबरा महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ प्रमोद कुमार ने घरेलू हिंसा और लैंगिक हिंसा पर विस्तृत प्रकाश डालते हुए बताया कि हम भले ही वैज्ञानिक युग में जी रहे है लेकिन समाज में महिलाएं आज भी पुरुषों के साथ कन्धे से कन्धा मिला कर चल रही है,फिर भी इसी समाज से इसी परिवार के लोगो द्वारा महिलाओं पर अत्याचार हो रहा हैं।कुछ परिवार ऐसे भी है जहाँ बहु को बेटी की तरह एवं पत्नी को अर्धांगिनी के रूप में माना जाता है।वहाँ पर हिंसा की कोई जगह नही होती।सरकार की मंशा है कि महिलाओं को शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत बनाया जाय इसी के तहत सरकार उच्च शिक्षा के माध्यम से मिशन शक्ति के द्वारा नवरात्र में इन्हें प्रशिक्षित किया कर रही हैं।इस दौरान डॉ प्रमोद कुमार ने महिलाओं की सुरक्षा हेतु कानून के बारे में भी बताया। साथ ही बताया कि अराजक तत्वों का मन बढ़ता है आपके शान्त रहने से,चुप रहने से, इस लिए चुप न रहें एवं अपने अभिवावक को सूचित करें,पुलिस को सूचित कर हेल्पलाइन नंबर पर भी कॉल करें।
अन्त में प्रशिक्षक हरिदास राय व प्रतिमा सिंह ने छात्राओं को आत्म रक्षा के अटैक का प्रशिक्षण दिया। इस दौरान महाविद्यालय के प्राध्यापक डॉ सुनील कुमार,प्रो मीरा यादव,प्रो उपेन्द्र कुमार व डॉ अमूल्य कुमार सिंह ने ऑनलाइन अपने व्यख्यान प्रस्तुत किये।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!