शारदीय नवरात्र में चौथे दिन मां कूष्माण्डा की जाती हैं उपासना, जानें

संजय केसरी (संवाददाता)

डाला । आज शारदीय नवरात्र का चौथा दिन हैं । आज मां दुर्गा के तीसरे स्वरूप मां कूष्माण्डा की उपासना की जाती हैं। भक्तों की भीड़ धीरे धीरे बढ़ रही हैं। हालांकि मन्दिर को हर दिन सेनिटाइज किया जा रहा है ताकि कोविड से बचा जा सके । इसके अलावा मन्दिर प्रशासन पहले ही अपनी गाइडलाइन जारी कर दिया था। गाइडलाइंस के मुताबिक बिना मास्क के दर्शन पर प्रतिबंध लगाने की बात कही गयी थी और एक बार में पांच लोग ही जा सकेंगे।

मन्दिर के प्रधान पुजारी श्रीकांत तिवारी ने बताया कि आज पवित्र शारदीय नवरात्र में चौथे दिन मां कूष्माण्डा की उपासना की जाती है। मंद मुस्कान एवं तेजस्वी चेहरे वाली मां की पवित्र मन से उपासना करनी चाहिए। मां कूष्माण्डा ने ब्रह्मांड की रचना की। मां आदि स्वरूपा, आदि शक्ति हैं। मां का निवास सूर्यमंडल के भीतर के लोक में है। मां कूष्माण्डा को ही सूर्यलोक में रहने की शक्ति प्राप्त है। मां कूष्मांडा की उपासना से तेज की प्राप्ति होती है।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!