बिजली बिल माफी सहित अन्य माँगों को लेकर सपाइयों ने प्रदर्शन कर सौंपा ज्ञापन

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । बिजली बिल माफी सहित विभिन्न समस्याओं को लेकर समाजवादी पार्टी के तत्वाधान में सपाइयों ने प्रदर्शन किया। मुख्यमंत्री को संबोधित चार सूत्री ज्ञापन भेजा तथा समस्याओं का निराकरण न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी।

आज सपाई मीडिया प्रभारी महफूज आलम खाँ व नगर अध्यक्ष कामरान उल्लाह खान के नेतृत्व में बिजली विभाग पहुँच कर आम जनता का शोषण करने, बिना किसी नोटिस दिए विद्युत विच्छेदन किए जाने, लॉकडाउन अवधि का बिल माफ किए जाने तथा शेष अवधि का बकाया बिल 50% घटाने को लेकर प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा।

इस दौरान महफूज आलम खान व कामरान उल्लाह खान ने कहा कि “कोविड-19 महामारी के समय देश व प्रदेश में संपूर्ण लॉकडाउन जिसमें सारे कामकाज व्यवसाय रोजगार व मजदूरी आदि लॉक डाउन होने के कारण पूर्णतया बंद हो गए थे, जिसमें विद्युत विभाग द्वारा उक्त लॉकडाउन अवधि का विद्युत बिल की मांग किया जा रहा है, जबकि संपूर्ण लॉकडाउन देश व प्रदेश सरकार द्वारा किया गया था। आम जनमानस के पास आय का कोई स्रोत नहीं होने के कारण उक्त लॉकडाउन अवधी का विद्युत बिल के भुगतान की मांग किया जाना शासन-प्रशासन की दोहरे चरित्र का घोतक है। जब से देश व प्रदेश में भाजपा की सरकार आई है, तब से शासन-प्रशासन द्वारा जनता की अनदेखी करते हुए जनता को धन उगाही का साधन समझकर उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है। जब देश व प्रदेश में भाजपा सरकार द्वारा ही संपूर्ण लॉकडाउन किया गया तो आम जनता से विद्युत बिल की वसूली किया जाना क्या न्याय संगत है? यह भाजपा सरकार की मंशा को स्पष्ट प्रदर्शित करता है कि उन्हें मात्र जनता से वसूली और एकमात्र वसूली ही उनका ध्येय है। जनता मरे या जीये शासन प्रशासन के कान पर कोई जूँ तक नहीं रेंगनी है। समाजवादी पार्टी मांग करती है कि लॉकडाउन अवधि का संपूर्ण बिल माफ करते हुए शेष अवधि का बकाया, विद्युत बिल को 50% कटौती करते हुए विद्युत उपभोक्ताओं को राहत पहुंचाया जाए साथ ही साथ जिस बकायेदारों का विद्युत कनेक्शन बिना किसी सूचना के काटा जा रहा है उन्हें विभाग द्वारा समय उपलब्ध कराया जाए, जिससे वे अपना विद्युत बकाया धनराशि की व्यवस्था कर भुगतान कर सके। क्योंकि वर्तमान समय में शासन-प्रशासन के निर्देशानुसार ऑनलाइन शिक्षा विद्यालय द्वारा उपलब्ध कराया जा रहा है यदि शासन प्रशासन द्वारा ही विद्युत कटौती की कटौती कर दिया जाएगा तो बच्चों शिक्षा से वंचित हो जाएंगे उनका पूरा साल बर्बाद होने की स्थिति बन जाएगी।”

प्रदर्शन में मुख्य रूप से अशोक पटेल, अजीत कुमार मौर्य, आमीन अंसारी, बलराज मौर्य, टीपू, रंजन पांडेय, विनोद यादव, आनन्द चौबे, मंगरु पटेल, सुरेश अग्रहरी, मनोज केसरी, आशीष शुक्ला, हसनैन अली, विषम अग्रहरी, श्याम मालवीय, जितेंद्र यादव, सुरेश कुशवाहा, बृजेश रावत, नसीम कुरैशी, हरिशंकर विश्वकर्मा, शाहिद खान आदि कार्यकर्तागण उपस्थित रहे।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!