खुली बैठक में तैयार करायी जाएँ ग्राम पंचायतों के विकास की वार्षिक कार्य योजना : डीएम

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । आज जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम व मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 अमित पाल शर्मा ने “जन योजना अभियान” जीपीडीपी की वार्षिक कार्य योजना की जिला क्रियान्वयन एवं समन्वय समिति की बैठक की।

इस दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि “पंचायतीय राज विभाग द्वारा ग्राम पंचायतों में विकास की योजनाओें को और ज्यादा समग्र तथा वास्तविक रूप देने के लिए विभिन्न कार्य किये जाते हैं। विकेन्द्रीयकृत नियोजन व्यवस्था में ग्राम पंचायतों द्वारा अपने विकास के लिए वार्षिक कार्ययोजना सही तरह से बनायी जाय, इसके लिए जरूरी है कि वे खुली बैठक करके गांव की परम आवश्यक जरूरी चीजों को “जन योजना अभियान” के तहत “हमारी योजना, हमारा विकास” को मूर्त रूप दिया जाय, लिहाजा वर्ष 2020-21 की जीपीडीपी वार्षिक कार्ययोजना बेहतर तरीके से बनायी जाय। सबसे पहले शुद्ध पेयजल, स्थानीय रोजगार व अन्य जरूरी चीजों पर विशेष ध्यान दिया जाय।”

जिलाधिकारी ने कहा कि “मिशन अन्त्योदय के तहत सर्वे की कार्यवाही पूरी करायी जाय और ग्राम स्तरीय नोडल अधिकारियों की भी कार्ययोजना बना ली जाय। पहले से ही बैठकों की तारीखें तय करते हुए व्यापक प्रचार-प्रसार कराकर स्थानीय नागरिकों यानी ग्राम सभा की लोगों की सहभागिता सुनिश्चित की जाय। इस मौके पर जीपीडीपी की कार्ययोजना के लिए ग्राम पंचायत विकास योजना की आवश्यक तत्वों, चरणबद्ध योजना निर्माण के पांचों चरणों जैसे-वातावरण निर्माण, परिस्थितिकीय विश्लेषण, आवश्यकताओं/समस्याओं की पहचान और प्राथमिकता निर्धारण, ग्राम पंचायत विकास योजना के लिए संसाधनों का निर्धारण एवं ड्राफ्ट कार्ययोजना का निर्माण, प्रशासनिक व वित्तीय स्वीकृति तथा क्रियान्वयन तथा अनुश्रवण की रणनीति, सोशल प्लान यानी कम लागत यानी बिना लागत की गतिविधिया, अभियान के दौरान मुक्तलिफ गतिविधियां, चुनौतियां एवं प्रस्तावित समाधान पर विस्तार से चर्चा की गयी।”

जिलाधिकारी ने कहा कि “ग्राम पंचायतों के विकास के लिए वार्षिक कार्ययोजना खुली बैठक में तैयार करायी जाय और सभी जरूरी तथ्यों को शामिल किया जाय। 02 अक्टूबर 2020 से 31 जनवरी 2021 के मध्य सहभागी ग्राम पंचायत योजना/वार्षिक कार्ययोजना जीपीडीपी के व्यापक प्रचार-प्रसार और सम्बन्धितों की सहभागिता पर जोर दिया गया। उन्होंने कहा कि बेहतर जीपीडीपी कार्ययोजना बनाकर अनुमोदन की कार्यवाही से पहले सभी रचनात्मक पहलुओं को शामिल करने का प्रयास किया जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण से बचते हुए सभी कार्यों को मूर्त रूप दिया जाय।”

बैठक में जिला पंचायत राज अधिकारी विशाल सिंह ने बिन्दुवार जीपीडीपी वार्षिक कार्ययोजना के सम्बन्ध में तथ्य प्रस्तुत किये और मौके पर मौजूद सभी अधिकारियों से रचनात्मक सुझाव भी मांगें गये। ग्राम प्रधान संघ के गोपीनाथ गिरि ने कई रचनात्मक तथ्य प्रस्तुत किये, जिसे कार्ययोजना में शामिल करने के लिए सहमति बनी। इस मौके पर सतत् विकास लक्ष्य एवं ग्राम पंचायतों पर विस्तार से चर्चा की गयी और राष्ट्रीय ग्राम्य स्वराज अभियान पर भी अमल करने के निर्देश सम्बन्धितों को दिया।

इस मौके पर जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम के अलावा मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 अमित पालशर्मा, डीसी मनरेगा टी0बी0 सिंह, ब्लाक प्रमुख राबर्ट्सगंज अशोक कुमार सिंह, जिलाध्यक्ष प्रधान संघ गोपीनाथ गिरि, जिला स्तरीय अधिकारीगण, खण्ड विकास अधिकारीगण सहित अन्य सम्बन्धितगण मौजूद रहे।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!