जनपद को पोषण माह में प्राप्त हुआ प्रथम स्थान

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । प्रत्येक वर्ष की भाॅंति इस वर्ष भी सितम्बर माह को ’’राष्ट्रीय पोषण माह 01 सितम्बर,2020 से 30 सितम्बर, 2020 के मध्य मनाते हुए जिलाधिकारी पुलकित खरे के कुशल नेतृत्व में बाल विकास विभाग सहित छः कन्वर्जेन्स विभागो द्वारा माह के दौरान पोषण से सम्बन्धित विभिन्न गतिविधियों का भारत सरकार के पोर्टल पर सबसे पहले फीडिंग कर जनपद ने प्रदेश में प्रथम स्थान अर्जित किया।
विभिन्न गतिविधियों के आयोजन में जनपद के सभी 1960 आंगनबाड़ी केन्द्रों पर वृद्वि निगरानी कराते हुए सभी 0-5 वर्ष तक के कुल 180514 बच्चों का पोषण स्तर निर्धारित कराया गया तथा वजनोपरान्त अतिकुपोषित बच्चों को कोविड-19 के दृष्टिगत सेवाएं प्रदान करने हेतु जिलाधिकारी, द्वारा प्रदेश में सर्वप्रथम अनूठा अभिनव प्रयोग करते हुए कुपोषित बच्चों के 434 परिवारो को नव स्थापित ’’ टेली-न्यूट्रीशन सेंटर ’’ के माध्यम से 08 विकास खण्डवार टेली पोषण वारियर से दूरभाष सं0 05882-255401 तथा पोषण वारियर के व्यक्तिगत मोबाइल नम्बर पर वीडियों कांलिग के माध्यम से घर बैठे पोषण परामर्श प्रदान किया गया जिसमें मात्र 15 दिनों में 434 परिवारों को परामर्श सुविधा प्रदान की गई, जो निरन्तर जारी है।
इसी क्रम में रसायनिक खादों से उत्पादित फल सब्जियों से बचाने के लिए जैविक खाद का प्रयोग करते हुए 288 ’’पोषण वाटिका’’ की स्थापना प्राथमिक विद्यालय एवं आंगनबाड़ी केन्द्रो के प्रांगण में की गई जिससे बच्चों को जैविक खाद से उत्पादित पोषक तत्वो से भरपूर फल एवं सब्जियाॅं प्राप्त होगीं इसी श्रंखला में जिलाधिकारी द्वारा आंगनबाड़ी केन्द्र घेरा रिछोला की पोषण वाटिका में फलदार आडू के वृक्ष का रोपण किया गया।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!