कांशीराम आवास में रह रही गर्भवती महिला को प्रशासन ने निकाला, तबियत बिगड़ने पर समाजसेवियों में पहुंचाया अस्पताल

कृपाशंकर पांडे (संवाददाता)

ओबरा। जनपद सोनभद्र में जिला प्रशासन द्वारा व्यापक पैमाने पर अवैध रूप से कांशीराम आवास में निवास कर रहे लोगों का कमरा खाली करवाया जा रहा है। जिससे कि पात्र लोगों का कमरा आवंटन किया जा सके अपात्र को बाहर करवाया जा सके जो कार्यवाही जिला प्रशासन द्वारा होना भी जरूरी था।28 सितंबर 2020को ओबरा में जिला प्रशासन द्वारा गठित टीम द्वारा कमरा खाली करवाया गया था जिसमें एक महिला सोनमती पत्नी भुनेश्वर प्रसाद उम्र लगभग 24 वर्ष का भी कमरा अवैध होने को दशा में खाली करवाया गया था जो गर्भवती है जिसके पति विकलांग भी है। रात में घर से बाहर रहने की दशा में महिला की तबियत बिगड़ने लगी रात में आराम होने के बाद किसी तरह तो सो गयी परन्तु आज दोपहर पुनः उसकी हालत बिगड़ती देख आस-पास में लोग परेशान हो गये।

इस मामले की जानकारी जैसे ही स्थानीय लोगों ने सावित्री देवी महिला सुरक्षा एवं जन सेवा टीम को दिया फौरन मौके पर पहुच सर्वप्रथम चादर घेर घेराबंदी कर के महिलाओं ने प्रयास किया उसके तद्पश्चात तत्काल चोपन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक व 102 एम्बुलेंस को फोन कर के एम्बुलेंस बुलवा कर उसके साथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चोपन में भर्ती करवाया गया है।स्थानीय लोगों ने कहा जल्द कमेटी बना कर जिला प्रशासन पात्र लोगों को कमरा आवंटन करे जिससे कि किसी भी पात्र गरीब को कोई समस्या न हो।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!