मशाल जुलूस निकाल यूँका ने किया किसान बिल का विरोध

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । केंद्र सरकार की ओर से पारित कृषि बिल का किसान कांग्रेस ने विरोध किया। पदाधिकारियों ने कहा कि बिल किसान विरोधी है। उसके विरोध में युवा कांग्रेस द्वारा 21 सितंबर को सदर तहसील पर सदर एसडीएम को राष्ट्रपति नामित ज्ञापन प्रदर्शन कर के सौंपा गया था। किसान विरोधी इस बिल को सरकार द्वारा वापस नहीं लिए जाने के विरोध में कांग्रेस ने चरणबद्ध आंदोलन की चेतावनी दी थी। इसी क्रम में आज आक्रोशित युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने इस काले कानून को वापस लिए जाने की मांग को लेकर रामलीला मैदान से बढ़ौली चौक तक मशाल जुलूस निकाला लेकिन बीच रास्ते में ही सदर कोतवाल के नेतृत्व में पुलिस ने युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को रोक दिया।

पुलिस प्रशासन के इस रवैये से युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता आक्रोशित हो गए और पुलिस विरोधी तथा सरकार विरोधी नारेबाजी करने लगे जिसके बाद पुलिस और युवा कांग्रेस के पदाधिकारियों में तीखी नोकझोक भी हुई। हालांकि बाद में युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने उसी स्थान से ही आज के कार्यक्रम के समापन की घोषणा कर मामला शांत कर दिया।

इस दौरान युवा कांग्रेस के प्रदेश महासचिव धीरज पांडेय ने कहा कि “भाजपा को इस कोरोना काल के दौरान इस बिल को अध्यादेश के माध्यम से लाकर बिना सार्थक चर्चे के ध्वनि मत से पारित कराना यह दर्शाता है कि मोदी सरकार के नीति और नियत दोनों में खोट है। किसानों के लिए हाल ही में भाजपा जो तीन बिल लेकर आई है वो भारत में कृषि के भविष्य को नष्ट कर देंगे। सत्ता बड़े पैमाने पर जनता की राय से बचने के लिए इन बिलों पर चर्चा करने की अनदेखी कर रहा है और झूठ बोलकर किसानों को भ्रमित किया जा रहा है। वहीं कांग्रेस पार्टी द्वारा विरोध दर्ज कराने के दौरान पुलिस को आगे कर तानाशाही रवैया अख्तियार किया गया है। आज की घटना इस बात का प्रमाण है। लेकिन अब युवा कांग्रेस सरकार को किसानों के मन की बात सुनने पर मजबूर कर देगा और उन्हें यह काला कानून वापस लेना होगा।”

एनएसयूआई के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अभिषेक चौबे ने कहा कि “हम भारत के जिम्मेदार नागरिकों के रूप में हमें अपने किसानों के मुद्दों को उठा रहे हैं और संकट की इस घड़ी में उनका समर्थन कर रहे है। क्योंकि हम सव खुद किसान परिवार से आते हैं, किसानों को तपस्या ही देश की जीविका है जिसे तानाशाही उद्योगपतियों के गुलाम सरकार को बर्बाद नहीं करने दिया जाएगा। आज सरकार के इशारे पर हमारे विरोध प्रदर्शन को दबाने के लिए जो पुलिस ने कार्य किया है उसकी हम घोर निंदा करते हैं। युवा कांग्रेस अपना विरोध जारी रखेगा।”

उक्त अवसर पर राहुल प्रियंका गांधी सेना से प्रदेश महासचिव राजेश द्विवेदी, सुशील पाठक, कांग्रेस शहर अध्यक्ष राजीव त्रिपाठी, सेवादल जिलाध्यक्ष कौशलेश पाठक, जिला कांग्रेस के महासचिव ब्रिजेश तिवारी, हरेंद्र पांडेय, शैलेन्द्र चतुर्वेदी, छात्र नेता आकाश वर्मा, कमलेश ओझा, अमरेश देव पांडेय, अश्विनी तिवारी, वीरेंद्र शुक्ला, राहुल सिंह, शैलेन्द्र चतुर्वेदी, दीपक शुक्ला, सूर्य मिश्रा, सन्नी शुक्ला, शीतला सिंह पटेल, पंकज मिश्रा, स्वतंत्र साहनी, राधेश्याम पटेल, आलोक सिंह, जितेंद्र पांडेय, छोटू पांडेय, विष्णुकांत, दिलीप चौबे, सुमित तिवारी, कृष्णकांत दुबे, पुनीत तिवारी, बंशीधर, शुभम, लल्लू, शीर्ष पांडेय, अमित पाठक, लालू भाई, प्रमोद दीपू, गुंजन श्रीवास्तव समेत अन्य कार्यकर्तागण उपस्थित रहे।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!