राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर का धूमधाम से मना जयंती

अनिता अग्रहरि (संवाददाता)
नरवन के मचवा गांव में राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर के तैल चित्र पर पुष्प अर्पित करते ग्रामीण

धीना। रामधारी सिंह दिनकर सेवा समिति के तत्वाधान में बुध्दवार को मचवा गांव में दिनकर का जयंती धूमधाम से मनाया गया। कार्यक्रम में ग्रामीणों ने रामधारी सिंह दिनकर के तैल चित्र पर पुष्प अर्पित कर उनके महान व्यक्तित्व को याद किया गया।वही उनके पदचिन्हों पर चलने का संकल्प लिया गया।
समिति सचिव मृत्यंजय सिंह दीपु ने कहा कि जब देश गुलामी की जंजीर में जकड़ा था तब राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर साहब ने अपनी लेखनी क्रांति लाने का काम किया था।उनके कविताओं के माध्यम से गांव गली शहर के लोगों को देश की आजादी के प्रति जागरूक करने का काम किया था।जिनके लेखनी के बल पर आजादी को पानी के लिए लोगों ने बड़ा साहस दिखाया।देश की आजादी में उस महान व्यक्तित्व का बड़ा योगदान है। ऐसे महान राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर के विचारों को नमन कर हम सभी लोगों को उनके विचारों को आगे बढ़ाने की आवश्यकता है।दिनकर के कविताओं में राग व अनुराग दोनों हुआ करते थे। जिस महान शख्सियत के नाम में भगवान प्रभु श्रीराम का वास हो सिंह की दहाड़ हो और सूर्य की तरह प्रकाशमान हो ऐसे दिनकर हमेशा हमेशा के लिए सूर्य की तरह प्रकाशमान रहते हैं। इस मौके पर समिति कोषाध्यक्ष धीरेंद्र प्रताप सिंह, मंत्री अरविंद पांडेय, उदय नारायण सिंह,अरविंद सिंह, बृजेश कुमार, राजेश सिंह, मनीष सिंह आदि लोग रहे।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!