विभागीय उदासीनता के कारण अधर में लटका अर्ध निर्मित सुलभ शौचालय का निर्माण कार्य

अरविंद कुमार चौबे (संवाददाता)

विभागीय अधिकारियों के उदासीनता के चलते अधर में लटका कार्य

मारकुंडी । चुर्क-गुरमा नगर पंचायत क्षेत्र के अन्तर्गत गुरमा मुख्य चौराहे पर स्थित लगभग 10 लाख की लागत से सुलभ शौचालय निर्माण कार्य 2018 से ही चालू हुआ था लेकिन कतिपय कारणों से ठेकेदार द्वारा अधूरा निर्माण कार्य कर के छोड़ दिया गया जो आज भी गुरमा चौराहे पर अपनी बदहाली पर आँशु बहा रहा है। लोगों की मानें तो निर्माण कार्य के गुणवत्ता मानकों के अनुसार न होने के कारण शेष कार्य रोक दिया गया था। जो विभागीय अधिकारियों के उदासीनता के कारण आज तक अधर में लटका हुआ है, जिससे आम लोगों के साथ नगरवासियों को भी इसके अभाव में परेशानी उठानी पड़ती है।

इस सम्बन्ध में चुर्क-गुरमा नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी सुनील कुमार ने बताया कि “इसकी अनुमानित लागत लगभग साढ़े आठ लाख रुपए की है।जो ठेकेदार के निर्माण कार्य को लेकर इसकी दो बार जांच होने के साथ ठेकेदार को कोई रनिंग पेमेंट न होने के प्रतिक्रिया के कारण निर्माण कार्य में अवरुद्धता उत्पन्न जरूर हुआ है। अब जांच प्रतिक्रिया के साथ फाइल आगे बढ़ा दिया गया है। जल्द ही निर्माण कार्य शुरू करा दिया जायेगा।”

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!