अहमदाबाद कमाने गए युवक का शव घर पहुँचने से मचा कोहराम

धर्मेन्द्र गुप्ता (संवाददाता)

-दो महीने पहले साथियों के संग निकला था कमाने, पाइपलाइन में करता था मजदूरी

विंढमगंज (सोनभद्र)।थाना क्षेत्र के महुली कस्बा निवासी एक युवक की अहमदाबाद में सड़क दुर्घटना में मौत हो गई।मंगलवार को दोपहर में उसका शव घर पहुंचते ही परिजनों में कोहराम मच गया। जानकारी के मुताबिक महुली गांव के झंझरी टोला निवासी मनीष कुमार (17वर्ष)पुत्र विंध्याचल विश्वकर्मा करीब दो महीने पहले अपने दोस्तों के साथ अहमदाबाद स्थित पाइपलाइन बिछाने वाली एक निजी कंपनी में काम करने गया था। बीते 19 सितम्बर को शाम सात बजे कार्यस्थल से अपने आवास पर लौटते समय एक सड़क दुर्घटना में वह बुरी तरह घायल हो गया था जहां अस्पताल में इलाज के दौरान कुछ ही घंटों में उसकी मौत हो गई थी।

मजदूरों को कंपनी में साथ लेकर गये सप्लायर ने परिजनों को फोन पर उसके पैर टूट जाने की खबर देते हुए अहमदाबाद आकर देख लेने की बात कही मगर परिवार वालों ने इतनी लंबी दूरी तय करने में असमर्थता जताई।मंगलवार को सुबह दस बजे विंढमगंज थाने में एंबुलेंस से शव पहुंचने के बाद पुलिस ने परिजनों को इस संबंध में सूचित किया।पुलिस ने बताया कि मृतक का पोस्टमार्टम अहमदाबाद पुलिस ने कराया है।दोपहर करीब बारह बजे मृतक का शव जैसे ही घर पहुंचा वहां ग्रामीणों की भीड़ लग गयी।अपने लाल का शव देखते ही परिजन दहाड़े मार रोने बिलखने लगे।घर वालों के रुदन-क्रंदन देख वहां सभी की आंखे भर आईं।परिवार वाले कंपनी की ओर से मृतक को उचित मुआवजा देने के बाद ही एंबुलेंस से शव उतारने की जिद पर अड़े हुए थे।ग्रामीणों की सूचना पर दुद्धी तहसीलदार ब्रजेश कुमार वर्मा एवं नायब तहसीलदार सूर्यबली मौर्या भी मौके पर पहुंच गए।अधिकारियों की मौजूदगी में कंपनी एवं सप्लायर के द्वारा परिजनों को डेढ़ लाख रुपये दिए जाने की बात पर सहमति बनी।इसके बाद ही परिजनों ने एंबुलेंस से शव को नीचे उतारा।मृतक दो भाई व एक बहन में सबसे बड़ा था।उसकी मौत हो जाने से परिजनों एवं ग्रामीणों में गहरा शोक व्याप्त है।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!