काला चावल के वर्चुअल बैठक में शामिल हुए अधिकारी व किसान

अनिता अग्रहरि (संवाददाता)


धीना। नरवन के अमड़ा गांव में काला चावल की खेती पर चर्चा के लिए शुक्रवार को वर्चुअल ऑनलाइन बैठक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।वर्चुअल बैठक कार्यक्रम में भारत सरकार के डिफ्टी सेकेट्री काशीनाथ व ज्वाइंट सेकेट्री एच हनुमना ने ऑनलाइन वर्चुअल बैठक के माध्यम किसानों से काला चावल की खेती पर चर्चा व फीड बैक लिया।जनपद में काला चावल की खेती को बढ़ावा देने का काम किया जा रहा है।काला चावल सुगर फ्री होने के चलते सुगर रोगियों के लिए काफी फायदेमंद होता है।जनपद के नरवन में लगभग 100 एकड़ में काला चावल की खेती कर किसानों ने काफी सराहनीय कार्य किया है।शुक्रवार को भारत सरकार के डिफ्टी सेकेट्री काशीनाथ व ज्वाइंट सेकेट्री एच हनुमना ने वर्चुअल बैठक मे किसानों को ऑनलाइन काला चावल की खेती करने पर विस्तार पूर्वक चर्चा करते हुए किसानों से फीड बैक लेने का काम किया।ताकि नरवन के किसान जागरूक होकर अधिक से अधिक काला चावल की खेती कर फायदा कमा सके।जिला कृषि रक्षा अधिकारी अमित जायसवाल ने बताया कि भारत में काला चावल की खेती में तीन जनपद को चिन्हित किया गया है।इसमें उत्तर प्रदेश से चन्दौली शामिल है।आगामी 31 अक्टूबर को राष्ट्रीय एकता दिवस पर काला चावल की खेती में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले जनपद के समिति को 10 लाख रुपये का अवार्ड मिलेगा।इस मौके पर काला धान कृषक समिति के जिलाध्यक्ष शशिकांत राय, डीडीएम नाबार्ड तनुज सेन, ओमप्रकाश, ड़ा0 समीर पांडेय, जीएन सिंह,करुण पांडेय, रतन सिंह, ग्राम प्रधान प्रमोद कुमार, उदय नारायण सिंह, शिवकांत सिंह, सच्चिदानंद त्रिपाठी, संगीता राय, शकुंतला देवी आदि रहे।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!