जनरेटर चुराने के उद्देश्य से साथी ने की थी आमिर की हत्या

मनोहर कुमार (संवाददाता)

मुगलसराय । कोतवाली क्षेत्र के चंदासी के पास 31 अगस्त को आमिर नामक व्यक्ति की हुई हत्या कांड का पुलिस ने सोमवार को खुलासा किया। पुलिस ने हत्यारोपी को भी जनपद के चौबेपुर थाना क्षेत्र के नेवादा के पास से मुखबिर की सूचना पर गिरफतार किया।उसे सम्बन्धित धाराओं में जेल भेज दिया गया।
इस संबंध में बताया गया कि आमिर चनधासी में मेंहदी बॉडी मेकर के दुकान पर काम करता था। 31अगस्त को वह घर नहीं गया तो उसके भाई अलमदार ने दुकान पर पहुंचा ।उसने देखा कि आमिर लहूलुहान हालत में पड़ा है। उस बाइक व मोबाइल भी मौके से गायब मिली। जिसकी सूचना परिजनों ने मुगलसराय थाने पर दिया जहामुकदमा अपराध संख्या 325/2020 धारा 302 भादवी बनाम विनोद पुत्र अज्ञात निवासी सुजाबाद के नाम से पंजीकृत किया गया। उपरोक्त के संबंध में तभी से पुलिस लगातार दबिश दे रही थी परंतु वह नहीं मिल रहा था। इसी दौरान पुलिस को सूचना मिली की चंदासी हत्याकांड का वांछित अभियुक्त वाराणसी जिले के चौबेपुर थाना अंतर्गत नेवादा चौराहे के पास मौजूद है।जिस पर पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए नेवादा पहुंचकर मोटरसाइकिल सहित उसे पकड़ लिया। पूछताछ में अभियुक्त ने बताया कि मैं और आमिर साथ में दुकान पर काम करते थे। बताया कि जरनेटर की चोरी करने के उद्देश्य से मैंने आमिर की हत्या कर दी ताकि जरनेटर चोरी करते समय आमिर उसका विरोध न कर सके। उसके बाद मैं दूसरे जगह काम पकड़ लिया और तभी से फरार था।गिरफ्तार करने वाली टीम में प्रभारी निरीक्षक मुगलसराय शिवानंद मिश्र,उप निरीक्षक सत्येंद्र विक्रम सिंह, हेड कांस्टेबल प्रेम सिंह, हेड कांस्टेबल प्रहलाद सिंह, कांस्टेबल शैलेंद्र उपाध्याय व कांस्टेबल गौरव सिंह शामिल रहे।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!