रेंजर भ्रष्टाचार को छुपाने के लिए लगा रहे हैं आरोप : कृपाशंकर पनिका

एस0 प्रसाद(संवाददाता)

रेंजर के भ्रष्टाचार और आदिवासी उत्पीड़न के खिलाफ आईपीएफ चलाएगा अभियान

म्योरपुर । म्योरपुर के रेंजर द्वारा यह कहना कि वन रेंज का घेराव पूर्व नियोजित था और एक राजनीतिक दल को आगे करके किया गया था, पूरे तौर पर औचित्यहीन और असत्य है। दरअसल अपने भ्रष्टाचार और वन माफियाओं से गठबंधन पर पर्दा डालने के लिए रेंजर इस तरह की बयान बाजी कर रहे हैं। रेंजर के भ्रष्टाचार और आदिवासियों के लगातार जारी उत्पीड़न के खिलाफ ऑल इंडिया पीपुल्स फ्रंट आदिवासियों में अभियान चलाएगा और रेंजर को दंडित कराया जाएगा। ऑल इंडिया पीपुल्स फ्रंट के नेता कृपाशंकर पनिका ने प्रेस को जारी अपने बयान में यह बातें कहीं। आज रासपहरी कार्यालय पर लाकडाउन के नियमों का पालन करते हुए ऑल इंडिया पीपुल्स फ्रंट की बैठक हुई। उधर लखनऊ में आइपीएफ नेता दिनकर कपूर ने प्रमुख सचिव वन एवं पर्यावरण को पत्र भेज रेंजर के खिलाफ कार्रवाई का आग्रह किया है। बैठक में राजनीतिक प्रस्ताव लेकर कहा गया म्योरपुर रेंजर भ्रष्टाचार और आदिवासी उत्पीड़न के पर्याय बन चुके हैं। वन तस्करों से मिलकर पूरे म्योरपुर में अवैध कटान करा रहे हैं और आदिवासियों को पकड़ कर उनसे हजारों रुपए की अवैध वसूली कर रहे हैं। इस बात को अपने वीडियो में पीड़ित लोगों ने स्वीकार किया है। जब इसकी शिकायत जिलाधिकारी से की गई और उनके स्तर पर जांच हो रही है तो आपने को बचाने के लिए वह अनाप-शनाप आरोप लगा रहे हैं और बयानबाजी कर रहे हैं। प्रस्ताव में कहा गया कि म्योरपुर में हद हो गई है सिसवा, झापर, वनमहरी, करहिया से लेकर तमाम गांव में यह रिपोर्ट मिल रही है कि रेंजर रात के अंधेरे में आदिवासियों के घरों में घुस जा रहे हैं और जांच-पड़ताल के नाम पर बदसलूकी कर रहे हैं, उन्हें फर्जी मुकदमे में फंसाने की धमकी दे रहे हैं। प्रस्ताव में कहा गया कि उत्पीड़न के शिकार आदिवासियों से म्योरपुर रेंजर के खिलाफ थाने में तहरीर भी दिलाई जाएगी और जरूरत पड़ी तो विधिक कार्यवाही भी उनके विरुद्ध की जाएगी। प्रस्ताव में यह संकल्प लिया गया की रेंजर के भ्रष्टाचार, वन माफिया गठबंधन और आदिवासियों के उत्पीड़न के खिलाफ व्यापक अभियान आइपीएफ, आदिवासी वनवासी महासभा और मजदूर किसान मंच की तरफ से चलाया जाएगा।आदिवासियों, दलितों व उत्पीडित जनों से हस्ताक्षर कराकर और उसको मुख्यमंत्री जी को भेजा जायेगा और रेंजर को दंडित करने की मांग की जाएगी।

बैठक में मजदूर किसान मंच के अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद गोंड़, रामनरेश गोंड़, मंगरू प्रसाद गोंड़, मनोहर गोंड़, इंद्रदेव खरवार, महावीर गोंड़, राम नाथ गोंड़, महादेव गोंड़, श्याम प्रसाद खरवार, दलबीर खरवार, रामदेव गोंड़ आदि लोगों ने अपने विचार रखें और प्रस्ताव पर सहमति दी।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!