हरितालिका तीज व्रत श्रद्धा-भक्ति के साथ सम्पन्न

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

● शिव मंदिरों में किया विधिवत पूजा अर्चना

● 24 घंटे निर्जला व्रत रही महिलाएं

● पति के दीर्घायु होने की किया मंगल कामना

● महिलाओं ने सुनी तीज की कहानी

सोनभद्र । सुहागिन महिलाओं का महान हरितालिका तीज व्रत पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। हर वर्ष शुक्ल पक्ष तृतीय को मनाए जाने वाले इस व्रत को लेकर देर रात तक पूजा अर्चना का दौर चलता रहा। हालांकि इस वर्ष कोरोना संक्रमण को देखते हुए शिव मंदिरों में भीड़-भाड़ देखने को नहीं मिला, ज्यादातर महिलाओं ने घरों में ही पूजा और तीज कथा किया।

सुहागिन महिलाएँ अपने सुहाग की रक्षा तथा मंगलमय दांपत्य जीवन को लेकर यह व्रत रखती है। पूरे दिन-रात चौबीस घंटे का निर्जला व्रत रखकर सुहागिन महिलाएं सोलहों श्रृंगार कर भगवान शिव एवं मां पार्वती की अराधना करती है। तीज व्रत को लेकर महिलाओं का उत्साह देखते ही बन रहा था। सुबह से ही महिलाए पूजा अर्चना की तैयारी में जुटी थी। सभी दिन भर पूजा अर्चना को लेकर विभिन्न तरह के पकवानों को बनाने में जुटी रही। शाम होते ही सुहागिन महिलाएं अपने-अपने घरों में पूजा अर्चना करने में जुट गई। विधिवत पूजा अर्चना करने के उपरांत महिलाओं ने पुरोहित ब्राह्मणों से हरितालिका व्रत कथा सुना तथा यथाशक्ति दान देकर अपने कुशल दांपत्य एवं पति के दीर्घायु होने का आशीर्वाद प्राप्त किया। तीज व्रत को लेकर दिन भर बाजारों में भी काफी चहल-पहल दिखी। सुबह से देर शाम तक बाजारों में फल, मिठाई, पूजन सामग्री एवं सुहाग सामग्री विक्रेताओं में दुकानों पर काफी भीड़ देखी गई। वही वस्त्र के दुकानों पर भी काफी भीड़ देखी। फल महंगा होने के बावजूद भी लोगों ने जमकर फलों की खरीदारी की।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!