बीएसए के औचक निरीक्षण में स्कूल से नदारद मिले कई शिक्षक, सहायक अध्यापिका निलंबित

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । परिषदीय प्राथमिक विद्यालय के शिक्षकों की लापरवाही थमने का नाम नहीं ले रही है। आज बेसिक शिक्षा अधिकारी गोरखनाथ सिंह पटेल ने विकास खण्ड घोरावल के कुल 10 विद्यालयों का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान शिक्षकों की उदाशीनता की पोल खुल गयी। अनुपस्थित और अनियमितता को गंभीरता से लेते हुए बेसिक शिक्षा अधिकारी ने 6 सहायक अध्यापकों, एक शिक्षामित्र तथा तीन अंशकालीन अनुदेशकों का वर्तमान माह का वेतन/मानदेय रोक दिया गया, वहीं 01 अगस्त, 2020 से अनुपस्थित सहायक अध्यापिका को निलंबित कर दिया।

बेसिक शिक्षा अधिकारी गोरखनाथ पटेल ने बताया कि “आज क्रमशः प्रा0वि0 बकौली, प्रा0वि0 भैरवा, उ0प्रा0वि0 भैरवा, प्रा0वि0 गडमा, उ0प्रा0वि0 खजुरौल, प्रा0वि0 मुसरधारा, प्रा0वि0 खजुरौल, प्रा0वि0 डोमखरी, प्रा0वि0 बरौली तथा प्रा0वि0 सोतिल का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान प्रा0वि0 बकौली की सहायक अध्यापिका सुनीता यादव, आकांक्षा यादव व शिक्षामित्र शब्या, प्रा0वि0 भैरवा की सहायक अध्यापिका नीतू सिंह व श्वेता मिश्रा, उ0प्रा0वि0 भैरवा के सहायक अध्यापक संजय कुमार सिंह व अंशकालिक अनुदेशक श्याम कुँवर यादव, आरती मौर्या व प्रियंका पाण्डेय तथा प्रा0वि0 मुसरधारा की सहायक अध्यापिका एकता अनुपस्थित पाए गए, जिसके क्रम में उक्त शिक्षकों/शिक्षिकाओं/अनुदेशकों/शिक्षामित्रों का वर्तमान माह का वेतन/मानदेय अवरूद्ध करने का आदेश दिया है। वहीं प्रा0वि0 सोतिल की सहायिका अध्यापिका मनीषा गुप्ता को 01अगस्त, 2020 से बगैर किसी पूर्व सूचना के मनमाने ढंग से अनुपस्थित रहने के कारण निलंबित कर दिया गया है।”

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!