कानपुर गोलीबारी कांड : यूपी पुलिस ने बढ़ाया जांच का दायरा, गैंगस्टर विकास दुबे पर इनाम की राशि भी बढ़ाई

फाइल फोटो

कानपुर गोलीबारी कांड में यूपी पुलिस ने जांच का दायरा बढ़ा दिया है । हर नजरिये से जांच की जा रही है, जिससे गैंगस्टर विकास दुबे के काले कारनामे का पर्दाफाश हो जाए । इसी के तहत पुलिस अब कानपुर स्थित बिकरू गांव में अब एक कुएं की तलाशी करने जा रही है । यह कुआं विकास दुबे के घर के बगल में बना है । घटना की रात क्या कुएं में भी कुछ सबूत फेंके गए, पुलिस इसकी जांच करेगी । कुएं का पानी खाली कराने के लिए पंपिंग सेट मंगा लिया गया है । पुलिस को शक है कि कहीं विकास दुबे और उसके गुर्गों ने हथियार और कुछ अन्य सबूत इसमें फेंक तो नहीं दिए हैं ।

8 पुलिसकर्मियों के हत्याकांड का आरोपी विकास दुबे अभी फरार चल रहा है । यूपी पुलिस उसकी तलाश में चप्पे-चप्पे पर निगरानी में लगी है । पुलिस ने विकास दुबे के सिर पर ढाई लाख का इनाम घोषित किया है । प्रदेश के डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने कानपुर शूटआउट के मुख्य आरोपी विकास दुबे पर ढाई लाख रुपये का इनाम घोषित किया है । सबसे पहले विकास दुबे पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित था, जिसे एक लाख किया गया था ।अब इसे बढ़ाकर ढाई लाख रुपये कर दिया गया है ।

इस मामले में हर दिन नए-नए खुलासे हो रहे हैं । रविवार को एक चौंकाने वाली जानकारी सामने आई कि विकास दुबे के संपर्क में चौबेपुर पुलिस थाने के दो दारोगा और एक सिपाही थे । इनकी कॉल डिटेल से खुलासा हुआ है । इसके बाद दारोगा कुंवर पाल और कृष्ण कुमार शर्मा समेत सिपाही राजीव को एसएसपी ने सस्पेंड कर दिया और मामले की जांच शुरू हो गई है।

गौरतलब है कि रविवार को विकास दुबे का करीबी दयाशंकर अग्निहोत्री पकड़ा गया था । उसने कबूल किया था कि विकास दुबे ने ही पुलिसवालों पर गोली चलाई थी । दयाशंकर ने बताया था कि छापेमारी की खबर विकास को थाने से पता चली थी, जिसके बाद विकास ने 25-30 लोगों को बुलाया था । ये सभी लोग हथियारों से लैस थे ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!